Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

दिल्ली में गणतंत्र दिवस से पहले चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा, अर्धसैनिक बलों के 10 हजार जवानों की तैनाती

ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली में गणतंत्र दिवस से पहले चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा, अर्धसैनिक बलों के 10 हजार जवानों की तैनाती

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: गणतंत्र दिवस समारोहों से पहले दिल्ली में व्यापक सुरक्षा के लिए अर्धसैनिक बल के दस हजार जवानों को तैनात किया गया है। समारोह में  फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद मुख्य अतिथि होंगे।

पठानकोट में वायुसेना के अड्डे पर हमले के एक हफ्ते बाद राष्ट्रीय राजधानी में अतिरिक्त अर्धसैनिक बल की तैनाती की गई है। हमले में सात सुरक्षाकर्मी मारे गए थे।

फ्रांस के राष्ट्रपति होंगे मुख्य अतिथि
गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में सर्वाधिक संभावित सुरक्षा कवर होगा जहां फ्रांस के राष्ट्रपति मुख्य अतिथि होंगे।’ सन 2014 में गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा में 50 कंपनी (हर कंपनी में 100 कर्मी) अर्धसैनिक बल तैनात किए गए थे। 2015 में यह संख्या बढ़ाकर 95 कंपनी कर दी गई जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा मुख्य अतिथि बनकर आए थे। अधिकारी ने कहा कि इस वर्ष सौ कंपनियों को तैनात करने का निर्णय किया गया है।

दो आतंकियों के दिल्ली में घुसने की सूचना
पठानकोट आतंकवादी हमले के बाद खुफिया सूचना पर दिल्ली में हाई अलर्ट चल रहा है। खुफिया जानकारी में बताया गया कि कम से कम दो आतंकवादी दिल्ली में घुस आए हैं। पठानकोट आतंकवादी हमले से कुछ दिन पहले केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने बताया था कि पाकिस्तान से आठ से दस आतंकवादियों का समूह भारत-पाकिस्तान की सीमा पार कर देश में घुस आया है। जमीन पर जवानों की तैनाती के अलावा सरकार विमान भेदी तोप की तैनाती करेगी और दिल्ली के कई इलाकों में नो फ्लाई जोन घोषित किया जाएगा।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement