गणतंत्र दिवस परेड में टिकट या पास से ही मिलेगी इंट्री, बच्चों को इजाजत नहीं- पुलिस ने जारी की एडवायजरी

गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में जमीन से लेकर आसमान तक अभूतपूर्व सुरक्षा बंदोबस्त किया गया है. यहां हजारों सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं तथा शहर के व्यस्त बाजार एवं इलाकों में गश्त बढ़ा दी गई है. किसान संगठनों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर सीमावर्ती इलाकों में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है.

गणतंत्र दिवस परेड में टिकट या पास से ही मिलेगी इंट्री, बच्चों को इजाजत नहीं- पुलिस ने जारी की एडवायजरी

इस बार परेड देखने वालों की संख्या में भी कटौती करते हुई इसे 25 हजार तक सीमित किया गया है जबकि पिछली बार यहां करीब सवा लाख लोगों के लिये व्यवस्था थी.

खास बातें

  • गणतंत्र दिवस परेड में टिकट या पास से ही मिलेगी एंट्री
  • 15 साल से कम उम्र के बच्चों को परेड में एंट्री की इजाजत नहीं
  • दिल्ली पुलिस ने परेड को लेकर जारी की एडवायजरी
नई दिल्ली:

गणतंत्र दिवस (Republic Day) समारोह से पहले दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने परामर्श जारी किया है, जिसमें कहा है कि राजपथ (Raj Path) पर लोगों को परेड देखने की इजाजत तभी मिलेगी जब उनके पास आमंत्रण-पत्र या टिकट होगा. इस व्यवस्था का सख्ती से पालन किया जाएगा. इसमें पुलिस ने यह भी कहा कि कार्यक्रम में 15 वर्ष से कम आयुवर्ग के लोगों को शामिल होने की इजाजत नहीं होगी.

दिल्ली पुलिस की ओर से ट्वीट किया गया, ‘‘इस वर्ष, गणतंत्र दिवस परेड देखने के लिये प्रवेश आमंत्रण पत्र अथवा टिकट से ही मिलेगा और इस व्यवस्था का सख्ती से पालन किया जाएगा. जिनके पास आमंत्रण पत्र/टिकट नहीं है उन्हें सलाह दी जाती है कि वे घर पर ही सीधा प्रसारण देखें. 15 वर्ष से कम आयु वर्ग के लोगों को राजपथ पर परेड देखने के लिए आने की इजाजत नहीं है.'' पुलिस ने कहा कि इस वर्ष कार्यक्रम में निर्बाध प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

'राजपथ पर राम मंदिर', गणतंत्र दिवस की झांकी में भव्य मंदिर के मॉडल और अयोध्या के दीपोत्सव का प्रदर्शन

गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में जमीन से लेकर आसमान तक अभूतपूर्व सुरक्षा बंदोबस्त किया गया है. यहां हजारों सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं तथा शहर के व्यस्त बाजार एवं इलाकों में गश्त बढ़ा दी गई है. किसान संगठनों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर सीमावर्ती इलाकों में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है.

26 जनवरी: राजपथ पर पहली बार CRPF की झांकी, नाइट विजन गॉगल्स पहन जवान करेंगे शौर्य प्रदर्शन


राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह के लिये लगाई जाने वाली कुर्सियों को भी सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए लगाया जाएगा. इस बार परेड देखने वालों की संख्या में भी कटौती करते हुई इसे 25 हजार तक सीमित किया गया है जबकि पिछली बार यहां करीब सवा लाख लोगों के लिये व्यवस्था थी.

वीडियो- गणतंत्र दिवस परेड में भव्य राम मंदिर की झलक नजर आएगी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)