केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोले, आरक्षण रोजगार की गारंटी नहीं, क्योंकि नौकरियां नहीं हैं

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि आरक्षण रोजगार देने की गारंटी नहीं है क्योंकि नौकरियां कम हो रही हैं.

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोले, आरक्षण रोजगार की गारंटी नहीं, क्योंकि नौकरियां नहीं हैं

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • नितिन गडकरी ने कहा, आरक्षण रोजगार देने की गारंटी नहीं है
  • उन्होंने यह भी माना कि नौकरियां कम हो रही हैं
  • मराठा आरक्षण पर बोल रहे थे गडकरी
औरंगाबाद:

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि आरक्षण रोजगार देने की गारंटी नहीं है क्योंकि नौकरियां कम हो रही हैं. गडकरी ने कहा कि एक ‘‘सोच’’ है जो चाहती है कि नीति निर्माता हर समुदाय के गरीबों पर विचार करें. गडकरी महाराष्ट्र में आरक्षण के लिए मराठों के वर्तमान आंदोलन तथा अन्य समुदायों द्वारा इस तरह की मांग से जुड़े सवालों का जवाब दे रहे थे. वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा, ‘‘मान लीजिए कि आरक्षण दे दिया जाता है. लेकिन नौकरियां नहीं हैं. क्योंकि बैंक में आईटी के कारण नौकरियां कम हुई हैं. सरकारी भर्ती रूकी हुई है. नौकरियां कहां हैं?’’    

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कांग्रेसी सांसद ज्योतिरादित्य से मांगी माफी, जानें क्‍या है पूरा मामला

उन्होंने कहा, ‘‘एक सोच कहती है कि गरीब गरीब होता है, उसकी कोई जाति, पंथ या भाषा नहीं होती. उसका कोई भी धर्म हो, मुस्लिम, हिन्दू या मराठा (जाति), सभी समुदायों में एक धड़ा है जिसके पास पहनने के लिए कपड़े नहीं है, खाने के लिए भोजन नहीं है.’’  
 
VIDEO: परिवहन मंत्री नितिन गडकरी बोले- हम गड्ढे भरने में नाकाम रहे
उन्होंने कहा, ‘‘एक सोच यह कहती है कि हमें हर समुदाय के अति गरीब धड़े पर भी विचार करना चाहिए.’’

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com