NDTV Khabar

कैबिनेट फेरबदल : अरुण जेटली ने कहा, पीएम मोदी हर मंत्रालय के कामकाज की बड़ी करीब से निगरानी करते हैं

अरुण जेटली ने कहा है कि विभागों का बंटवारा हर मंत्रालय एवं उसके मंत्रियों के प्रदर्शन की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कड़ी निगरानी के बाद किया गया है.

711 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कैबिनेट फेरबदल : अरुण जेटली ने कहा, पीएम मोदी हर मंत्रालय के कामकाज की बड़ी करीब से निगरानी करते हैं

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए मंत्रिमंडल विस्तार और फेरबदल में नौ नए मंत्रियों को शामिल करने और चार राज्यमंत्रियों को प्रमोट कर कैबिनेट मंत्री बनाए जाने को पीएम के सुशासन पर विशेष ध्यान केंद्रित करने के कदम तौर पर देखा जा रहा है. केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि विभागों का बंटवारा हर मंत्रालय एवं उसके मंत्रियों के प्रदर्शन की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कड़ी निगरानी के बाद किया गया है. जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बहुत ऊंचे मापदंड तय कर रखे हैं. यह बिल्कुल साफ है कि वह हर मंत्रालय और व्यक्ति के कामकाज की बड़ी करीब से निगरानी कर रहे हैं, इसलिए उन्होंने तय किया कि किसे कौन सी जिम्मेदारी दी जाए. जब जेटली से इस्तीफा देने वाले मंत्रियों के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा, 'सभी पार्टी सदस्य सरकार में नहीं हो सकते हैं. वे निश्चित ही अपने क्षेत्र और पार्टी के लिए काम करेंगे.'

यह भी पढ़ें: कैबिनेट विस्तार : कांग्रेस ने कसा तंज, मोदी मंत्रिमंडल 'सीनियर सिटीजन क्लब' बन गया है

केंद्रीय मंत्रिमंडलय के छह मंत्रियों ने फेरबदल से महज कुछ दिन पहले इस्तीफा भी दिया था. इस फेरबदल के तहत नौ नए चेहरे राज्यमंत्री के रूप में शामिल किए गए हैं. अरुण जेटली वित्त मंत्री के साथ-साथ रक्षा मंत्री की जिम्मेदारी भी संभाल रहे थे. अब निर्मला सीतारमण को रक्षा मंत्री बनाया गया है. जेटली ने कहा कि इस फेरबदल में एक अन्य अहम कदम सीतारमण को रक्षा मंत्रालय सौंपा जाना है. उन्होंने कहा, आज देश के लिए एक बड़ा दिन है क्योंकि दो महिलाएं सुरक्षा से संबंधित मंत्रिमंडलीय समिति का हिस्सा बन गईं. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पहले से ही इस समिति में थीं और अब सीतारमण बतौर रक्षा मंत्री उसका हिस्सा होंगी.

VIDEO : मोदी कैबिनेट में तीसरी बार हुआ फेरबदल
नई टीम में प्रशासनिक क्षमता वाले बीजेपी नेताओं को शामिल किए जाने को बड़ा ही महत्वपूर्ण करार देते हुए जेटली ने कहा कि वे राजनीति में कदम रखने वाले नए लोग नहीं हैं, उनमें से कुछ रिटायरमेंट के बाद बीजेपी में शामिल हो गए थे. जेटली ने कहा, 'मैं समझता हूं कि प्रधानमंत्री ने शासन में उनकी योग्यता एवं क्षमता को पहचाना है.'

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement