शांति भंग करने के लिए गुंडे लाने वाले बाहरी लोगों का प्रतिकार करें : ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किसी का नाम लिए बगैर बुधवार को कहा कि ‘‘कुछ लोग दूसरे राज्यों से गुंडे’’ लेकर आ रहे हैं ताकि 2021 के विधानसभा चुनावों से पहले राज्य की शांति भंग की जा सके.

शांति भंग करने के लिए गुंडे लाने वाले बाहरी लोगों का प्रतिकार करें : ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किसी का नाम लिए बगैर बुधवार को कहा कि ‘‘कुछ लोग दूसरे राज्यों से गुंडे'' लेकर आ रहे हैं ताकि 2021 के विधानसभा चुनावों से पहले राज्य की शांति भंग की जा सके. बनर्जी के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा ने कहा, ‘‘देश के बाकी हिस्सों से आने वाले भारतीयों का तृणमूल कांग्रेस सरकार स्वागत नहीं करती है, लेकिन बांग्लादेशी घुसपैठियों का दिल खोलकर स्वागत किया जाता है.'' हिन्दी भाषी बहुल क्षेत्र पोस्ता बाजार में जगधात्री पूजा के शुभारंभ के अवसर पर बनर्जी ने लोगों से कहा कि वे राज्य में अशांति फैलाने वाले ‘‘गुंडों और बाहरी लोगों'' का प्रतिकार करें.

Newsbeep

उन्होंने कहा, ‘‘अगर बाहर से कुछ गुंडे हमारे राज्य में आकर आपको आतंकित करते हैं तो आप सभी को एकजुट होकर उनका प्रतिकार करना चाहिए. मैं वादा करती हूं कि हम आपके साथ होंगे. हम शांति में विश्वास करते हैं. लेकिन कुछ लोग सिर्फ चुनाव के दौरान दूसरों को आतंकित करने आते हैं. हम उन्हें यहां मनमर्जी नहीं करने देंगे.'' इन बाहरी लोगों को ‘‘विभाजनकारी ताकत'' बताते हुए बनर्जी ने कहा कि उन्हें हराने की आवश्यकता है. बनर्जी ने इससे पहले भी कई मौकों पर भाजपा को ‘‘बाहरी लोगों की पार्टी'' बताया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बनर्जी के बयान पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पार्टी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख का बयान राज्य में भाजपा की बढ़ती पकड़ पर पार्टी की हताशा व्यक्त कर रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे बयान तृणमूल कांग्रेस और उसके नेतृत्व के गुस्से और हताशा को दर्शाते हैं.''



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)