Coronavirus के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर रैंडम सैंपलिंग के नतीजे चौंकाने वाले

Coronavirus: ICMR को 99 पॉजिटिव का रिकॉर्ड मोटे तौर पर नहीं मिला, यह पता नहीं चल सका कि वे कोरोना पॉजिटिव हुए कैसे?

Coronavirus के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर रैंडम सैंपलिंग के नतीजे चौंकाने वाले

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

Coronavirus Update: सीवियर एक्यूट रेस्पिरेट्री इलनेस यानी SARI के मरीजों की रैंडम सैंपलिंग का काम ICMR ने शुरू किया है. इस सैंपलिंग से ये पता लगाए जाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं कम्युनिटी ट्रांसमिशन तो नहीं हुआ. पहले की गई इस सैंपलिंग में 965 सैंपलों में 2 ही पॉजिटिव मामले आए थे. इसके बाद 19 मार्च के बाद रणनीति में बदलाव किया गया और तय हुआ कि अस्पताल में भर्ती SARI के तमाम मरीजों का सैंपल लिया जाएगा. ये सभी सैंपल 15 फरवरी से 2 अप्रैल के बीच लिए गए.

सैंपलिंग की इस प्रक्रिया में कुल 5,911 मरीजों का टेस्ट हुआ. इसमें से 104 (1.8 फीसदी) की टेस्ट जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई. ये सभी टेस्ट 52 जिलों और 20 राज्यों में किए गए. 

पॉजिटिव मिले 102 मरीज़ों में से 40 लोगों  (39.2 फीसदी) की कोई कांटैक्ट हिस्ट्री या फिर विदेश यात्रा नहीं रही. 59 पॉजिटिव मरीजों के एक्सपोज़र का डेटा नहीं मिला. यानी 40+59=99 पॉजिटिव का रिकॉर्ड मोटे तौर पर ICMR को मिला नहीं. यह पता नहीं चल सका कि वे कोरोना पॉजिटिव हुए कैसे? दो का कनफर्म्ड कोविड पॉजिटिव का कांटेक्ट निकला. वहीं एक पॉजिटिव मरीज़ की विदेश ट्रेवल की हिस्ट्री थी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com