NDTV Khabar

पूर्व नौकरशाहों ने पीएम मोदी को लिखा खुला खत, 'सरकार मूल ज़िम्मेदारियों को पूरा करने में भी नाकाम'

रिटायर नौकरशाहों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला खत लिखा है. इसमें लिखा गया है कि कठुआ और उन्नाव की दर्दनाक घटनाएं दिखाती हैं कि सरकार मूल ज़िम्मेदारियों को पूरा करने में भी नाकाम रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पूर्व नौकरशाहों ने पीएम मोदी को लिखा खुला खत, 'सरकार मूल ज़िम्मेदारियों को पूरा करने में भी नाकाम'

पूरे देश में लोगों ने जगह-जगह प्रदर्शन कर कठुआ और उन्नाव मामले में न्याय की मांग की.

खास बातें

  1. कठुआ और उन्नाव की घटनाएं बहुत दर्दनाक
  2. पत्र में लिखा, ये हमारा सबसे काला दौर
  3. लिखा, पीड़ित परिवारों से माफ़ी मांगें
नई दिल्ली:

कठुआ और उन्नाव रेप के विरोध में पूरे देश में लोगों का गुस्सा उबाल पर है. न्याय के लिए देश में लोग जगह-जगह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. इन सबके बीच रविवार को देश के 49 रिटायर नौकरशाहों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला खत लिखा है. खत में लिखा गया है कि कठुआ और उन्नाव की दर्दनाक घटनाएं दिखाती हैं कि सरकार अपनी बहुत ही मूल ज़िम्मेदारियों को पूरा करने में भी नाकाम रही है. ये हमारा सबसे काला दौर है और इससे निपटने में सरकार और राजनीतिक पार्टियों की कोशिश बहुत ही कम और कमज़ोर है.

यह भी पढ़ें : सूरत में बच्ची से रेप से आहत आनंद महिंद्रा बोले, रेपिस्टों को फांसी देने के लिए मैं जल्लाद बनने को तैयार

पत्र में आगे लिखा गया है कि नागरिक सेवाओं से जुड़े हमारे युवा साथी भी लगता है अपनी ज़िम्मेदारियों को पूरा करने में नाकाम रहे हैं. इस पत्र में प्रधानमंत्री से कहा गया है कि वो कठुआ और उन्नाव में पीड़ित परिवारों से माफ़ी मांगें और मामलों की फास्ट ट्रैक जांच करवाएं. पत्र में यह भी मांग की गई है कि प्रधानमंत्री नफ़रत भरे भाषणों और अपराधों से जुड़े लोगों को अपनी सरकार से हटाएं और इस पूरे मसले पर एक सर्वदलीय बैठक बुलाएं.
 
यह भी पढ़ें : नाबालिग से रेप करने वाले को मिले मौत की सजा, जल्द से जल्द बने कानून: फारूक अब्दुल्ला

गौरतलब है कि पिछले दो हफ्तों में गैंगरेप और हत्या के दो मामलों ने पूरे देश को सकते में डाल दिया है. पिछले हफ्ते रविवार को यूपी के उन्नाव की एक महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर आत्मदाह की कोशिश की थी. महिला का आरोप था कि बीजेपी विधायक ने उसके साथ रेप किया है. पूरे देश में इस मुद्दे पर चर्चा और विरोध के बाद आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार कर सीबीआई रिमांड पर भेज दिया गया है.


यह भी पढ़ें :  कठुआ और उन्‍नाव रेप के विरोध में स्वाति मालीवाल का अनशन तीसरे दिन भी जारी

वहीं, दूसरा सनसनीखेज मामला जम्मू कश्मीर के कठुआ से सामने आया. जहां 8 साल की बच्ची की अपहरण के बाद कई दिनों तक गैंगरेप करने के बाद हत्या कर दी गई. वहीं, एक दिन पहले गुजरात के सूरत में एक 9 साल की बच्ची का शव बरामद हुआ. उसके शरीर पर 100 के करीब चोट के निशान थे. इसे देखते हुए लोगों का गुस्सा चरम पर है. देश के कई शहरों में लोग सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर न्याय की मांग कर रहे हैं. मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शुक्रवार को अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि कोई भी अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा. 

पीएमओ इंडिया के ट्वीट के अनुसार पीएम मोदी ने कहा, 'जिस तरह की घटनाएं हमने बीते दिनों में देखीं हैं, वो सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं. पिछले 2 दिनों से जो घटनाएं चर्चा में हैं वो निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज के लिये शर्मनाक हैं. एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में हम सब इसके लिए शर्मसार हैं.' 

टिप्पणियां

VIDEO : कठुआ-उन्नाव की घटना से पूरे देश में उबाल

प्रधानमंत्री ने आगे लिखा था, 'देश के किसी भी राज्य में, किसी भी क्षेत्र में होने वाली ऐसी वारदातें, हमारी मानवीय संवेदनाओं को झकझोर देती हैं. मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा. हमारे समाज की इस आंतरिक बुराई को खत्म करने का काम, हम सभी को मिलकर करना होगा.'



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement