देखें PHOTOS: दिल्ली हिंसा में दंगाइयों ने ब्लैकबोर्ड तोड़ा, लाइब्रेरी जलाई, डेस्क भी तोड़े, स्कूल को फूंक डाला

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के शिव विहार इलाके में हिंसा की कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिनकी रिपोर्ट नहीं की गई. पुलिस भी गुरुवार की शाम तक ही यहां पहुंच पाई है.

देखें PHOTOS: दिल्ली हिंसा में दंगाइयों ने ब्लैकबोर्ड तोड़ा, लाइब्रेरी जलाई, डेस्क भी तोड़े, स्कूल को फूंक डाला

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के शिव विहार इलाके में हुई हिंसा के दौरान स्कूल की तस्वीर

नई दिल्ली:

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के शिव विहार इलाके में हिंसा की कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिनकी रिपोर्ट नहीं की गई. पुलिस भी गुरुवार की शाम तक ही यहां पहुंच पाई है. करीब एक हजार बच्चों वाली 10वीं तक के डीआरपी कॉन्वेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल को लूटा गया और फिर जलाकर राख कर दिया गया. यहां स्कूल के बगल की इमारत से रस्सियां भी लटक रही हैं, जहां से दंगाई उतरे हैं. इतना ही नहीं एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह जाएगा. उपद्रवियों ने स्कूल के भीतर क्लासरूम में घुसकर न सिर्फ तोड़फोड़ किए बल्कि ब्लैकबोर्ड को भी तोड़ दिया गया. स्कूल की लाइब्रेरी तक को जला दी गई.

दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर होंगे एसएन श्रीवास्तव, शनिवार को संभालेंगे जिम्मेदारी

aivtg1ig

स्कूल के ओनर धर्मेश शर्मा बता रहे हैं कि पुलिस दो दिन बाद यहां पहुंची. यहां पर फायर ब्रिगेड तो पहुंच ही नहीं पाई. आग कल रात (गुरुवार) तक अपने आप बुझ गई. ये दूसरा स्कूल है जिसे जलाया गया है. कुछ ऐसा ही दृश्य दिल्ली के बृजपुरी इलाके से देखने को मिली थी. दिल्ली के बृजपुरी इलाके में दंगाइयों ने एक स्कूल में तोड़फोड़ की और उसके बाद स्कूल को आग के हवाले कर दिया. यह घटना मंगलवार शाम की बताई जा रही है. आरोप है कि इस घटना की सूचना मिलने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची. रात में फायर ब्रिगेड के पहुंचने पर आग बुझाई गई.

1kdtljp8

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के बृजपुरी इलाके में स्थित अरुण मॉडर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल में मंगलवार शाम चार बजे करीब 300 से 400 दंगाई घुस गए और स्कूल में तोड़फोड़ की. इसके बाद उन्होंने लाइब्रेरी, कंप्यूटर रूम और क्लास रूम समेत कई जगहों पर आग लगा दी.

दोगुनी सज़ा मतलब अब ताहिर के साथ साथ उसके आका को भी सज़ा मिलनी चाहिये कड़ी से कड़ी : मनोज तिवारी

दंगाइयों ने कैमरे तोड़ दिए और सारे कागजातों (रिकॉर्ड्स) को आगे के हवाले कर दिया. यही नहीं, उन्होंने स्कूल के अंदर खड़ी बसों को भी जला दिया और उनके डीजल टैंक में आग लगा दी. जिस वक्त उपद्रवियों ने यह उत्पात मचाया उस समय स्कूल में बच्चे नहीं थे. इस स्कूल में करीब 3,000 स्टूडेंट्स पढ़ते हैं. शिक्षकों ने बताया कि जिन बच्चों के बोर्ड के पेपर हैं उनको तो रोल नंबर दे दिए गए हैं लेकिन बाकी कक्षाओं की परीक्षा कराना मुश्किल है. दंगाइयों ने बच्चों की उत्तरपुस्तिकाओं और स्कूल के रिकॉर्ड्स जला कर राख कर दिए हैं.

jchj7pso

कहा जा रहा है कि दंगाइयों के तोड़फोड़ और आगजनी की सूचना पुलिस को दी गई लेकिन पुलिस नहीं आई. रात में करीब 10 बजे फायर ब्रिगेड घटनास्थल पर पहुंची तब जाकर आग बुझाई जा सकी है.

bc4b9bb8

बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में लगातार तीन दिनों से हो रही हुई हिंसा में अब तक 39 लोगों की मौत हो चुकी है. 200 से ज़्यादा लोग अस्पताल में हैं, जिनमें से कुछ लोगों की हालत काफ़ी गंभीर बताई जा रही है. हिंसा को लेकर अलग-अलग थानों में 18 एफआईआर दर्ज की गई है और 130 उपद्रवियों को गिरफ़्तार किया गया है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com