NDTV Khabar

केन-वेतवा, तापी-नर्मदा, दमन-गंगा पिंजाल, नदी जोड़ो परियोजनाएं तीन महीने के अंदर शुरू : नितिन गडकरी

भारत जल सप्ताह सम्मेलन 2017 को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा, 'बाढ़ और सूखे से निपटने के लिये नदी जोड़ो परियोजना काफी महत्वपूर्ण है.

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
केन-वेतवा, तापी-नर्मदा, दमन-गंगा पिंजाल, नदी जोड़ो परियोजनाएं तीन महीने के अंदर शुरू : नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी   ने कहा है कि केन-वेतवा, तापी-नर्मदा, दमन-गंगा पिंजाल, नदी जोड़ो परियोजना तीन महीने के भीतर शुरू हो जायेगी. भारत जल सप्ताह सम्मेलन 2017 को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा, 'बाढ़ और सूखे से निपटने के लिये नदी जोड़ो परियोजना काफी महत्वपूर्ण है. देश में 30 नदी जोड़ो परियोजनाओं की मंजूरी दी गई है जिसमें से तीन परियोजनाएं केन वेतवा नदी जोड़ो, पार तापी नर्मदा नदी जोड़ो और दमन गंगा पिंजाल नदी जोड़ो परियोजना तीन महीने के भीतर शुरू हो जायेगी.' उन्होंने कहा कि सरकार नदियों को आपस में जोड़ने के लिये बड़ी निधि सृजित करने की संभावना तलाश रही है. सिंचाई परियोजनाओं के संदर्भ में उन्होंने कहा कि इस वर्ष प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना से जुड़ी 27 परियोजनाएं पूरी कर ली जायेंगी. अगले साल 285 नयी सिंचाई परियोजनाओं का कार्य लिया जायेगा जिसके माध्यम से 1 करोड़ 88 लाख हेक्टेयर भूमि को सिंचाई सुविधा से जोड़ा जायेगा. सरकार का जोर सिंचाई कार्य के दौरान अधिक से अधिक मात्रा में पानी बचाना है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने माना, 'अर्थव्यवस्था में कुछ समस्याएं हैं'

टिप्पणियां
जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री ने कहा कि पानी, बिजली, परिवहन और संचार विकास के चार प्रमुख स्तम्भ हैं. सरकार प्रत्येक परिवार को सुरक्षित पेयजल पहुंचाने और हर खेत को सिंचाई सुविधा प्रदान करने को प्रतिबद्ध है. इस दिशा में हाल ही में प्रधानमंत्री ने सरदार सरोवर परियोजना का शुभारंभ किया जो चार करोड़ लोगों को पेयजल और 8 लाख हेक्टेयर भूमि में सिंचाई मुहैया करायेगा. उन्होंने कहा कि शोधिक जल के उपयोग के लिये नये रास्ते तलाशे जा रहे हैं.
वीडियो : बड़े सुधार होते हैं तो शुरू में दिक्कतें आती हैं : गडकरी
गडकरी ने कहा कि उन्होंने बिजली मंत्री से आग्रह किया है कि एनटीपीसी के बिजली संयंत्र के लिये शोधित जल के उपयोग के रास्ते तलाशे. यह भी जरूरी है कि नदियों से समुद्र में जाने वाले 70 प्रतिशत जल के उपयोग के संबंध में नवोन्मेषी रास्ते तलाशें जाएं.

इनपुट : नितिन गडकरी
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement