नीतीश कुमार ने कभी विधानसभा में BJP को ऐसे किया था 'डंप', अब वीडियो शेयर कर बोले लालू - डायलॉग सुनिए

नीतीश कुमार इन चुनावों में विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल और सत्ता में पुराने साथी रहे लोक जनशक्ति पार्टी के पंचिंग बॉल बने हुए हैं. एक कारण उनका बीजेपी के साथ लव-हेट वाला रिश्ता भी है.

नीतीश कुमार ने कभी विधानसभा में BJP को ऐसे किया था 'डंप', अब वीडियो शेयर कर बोले लालू - डायलॉग सुनिए

लालू यादव ने नीतीश कुमार का एक पुराना वीडियो ट्वीट कर हमला बोला है. (फाइल फोटो)

पटना:

Bihar Assembly Election 2020: बिहार में चल रहे विधानसभा चुनावों में मतदान के दो चरण खत्म हो चुके हैं, अब बस आखिरी चरण की लड़ाई बची है. ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां सात नवंबर को होने वाली वोटिंग के लिए अपनी पूरी जान की बाजी लगा देना चाहती हैं. बीजेपी के साथ गठबंधन के साथ चुनाव लड़ रहे जनता दल यूनाइटेड (JDU) के प्रमुख और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) इन चुनावों में विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल और सत्ता में पुराने साथी रहे लोक जनशक्ति पार्टी के पंचिंग बॉल बने हुए हैं. एक कारण उनका बीजेपी के साथ लव-हेट वाला रिश्ता भी है. कभी बीजेपी का साथ छोड़ने और फिर बीजेपी के साथ गठबंधन करने को लेकर नीतीश कुमार हमेशा विपक्षी पार्टियों के तीखे हमलों के निशाने पर रहे हैं.

ताजा हमला आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव की ओर से आया है. दरअसल, बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ने के बाद कभी नीतीश कुमार ने विधानसभा में बीजेपी को काफी उल्टा-पुल्टा सुनाया था. उन्होंने यह तक कहा था कि बीजेपी के साथ जाना अब उनके लिए असंभव है. इसी घटना का वीडियो लालू प्रसाद ने गुरुवार को ट्विटर पर शेयर किया है.

लालू ने यह वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि 'डायलॉग सुनिए डायलॉग! कोई इंसान सार्वजनिक जीवन में इतना सिद्धांतहीन, नीति विहीन, नीयत विहीन, नैतिकता विहीन और विचारहीन कैसे हो सकता है?'

इस वीडियो में नीतीश कह रहे हैं कि 'अब इसके बाद किसी भी परिस्थिति में लौटकर जाने का प्रश्न पैदा नहीं होता है. हम रहें या मिट्टी में मिल जाएं, आप लोगों के साथ अब कभी कोई समझौता भविष्य में नहीं होगा. असंभव, अब यह संभव ही नहीं है, नामुमकिन. अब वो चैप्टर खत्म हो चुका क्योंकि उस भरोसे को आपने तोड़ा है.'

यह भी पढ़ें : बिहार रैली में PM मोदी की अयोध्या पर टिप्पणी ने दिलाई नीतीश कुमार के 2015 वाले तंज की याद

बता दें कि नीतीश कुमार 2015 में आरजेडी के साथ चुनाव लड़कर मुख्यमंत्री बने थे, लेकिन बाद में लालू परिवार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने लगे तो वो दबाव में आ गए. फिर 2017 में रातोंरात उन्होंने आरजेडी के साथ गठबंधन तोड़कर बीजेपी से फिर हाथ मिला लिया और फिर मुख्यमंत्री बन गए थे.

Video: बिहार का दंगल: योगी के भाषण से क्यों गायब रही नीतीश कुमार के काम की चर्चा?

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com