NDTV Khabar

लालू ने जबरन गले लगाया... केजरीवाल के इस बयान पर भड़की आरजेडी, बताया 'बचकाना'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लालू ने जबरन गले लगाया... केजरीवाल के इस बयान पर भड़की आरजेडी, बताया 'बचकाना'

लालू यादव और अरविंद केजरीवाल के गले मिलने का फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली/पटना:

अरविंद केजरीवाल के लालू यादव से गले मिलने की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने और बीजेपी के इसे मुद्दा बनाने  के बाद केजरीवाल ने अपनी सफाई में कहा कि वो लालू से अपनी इच्छा से गले नहीं मिले थे। लालू यादव ने ही उन्हें खींच कर गले लगाया था। अब केजरीवाल का लालू से गले मिलने पर यह बयान देना खुद आरजेडी को नांगवारा गुजरा है। पार्टी के नेता मनोज झा ने बेहद नाराजगी भरे लहज़े में केजरीवाल के बयान को बचकाना बता डाला।

केजरीवाल का बयान बचकाना और स्तरहीन : मनोज झा
राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रवक्‍ता मनोज झा ने इस मसले पर कहा कि 'हमें इस बात का दुख है कि एक नेता जो अभी दिल्‍ली का मुख्‍यमंत्री है, वो इतना बचकाना, स्‍तरहीन, अपरिपक्‍व, मूर्खतापूर्ण बयान दे और उस बयान पर मीडिया में ये बताया जाए कि उनसे जबरदस्‍ती गले मिला गया। आप कौन से प्रोग्राम में गए थे... किसके लिए मैंडेट था? आप जनादेश का आदर करते हैं या उसका तिरस्‍कार करते हैं। दिल्‍ली की जनता ने आपको चुना, हमने कभी सवाल खड़े नहीं किए।' वहीं, जेडीयू के नेता अजय आलोक का कहना है कि विपक्ष घबरा गया है।

टिप्पणियां

बदनामी होने के बाद केजरीवाल सफाई दे रहे हैं : सुशील मोदी
उधर, बीजेपी का कहना है कि बदनामी होने के बाद केजरीवाल सफाई दे रहे हैं। राज्‍य के पार्टी के वरिष्‍ठ नेता सुशील मोदी ने कहा कि 'अब मीडिया में बदनामी हो रही है तो सफाई दे रहे हैं। कोई नेता किसी से जबरदस्‍ती गले मिल सकता है क्‍या? राजनीति में लोग समझौतावादी हो गए हैं।'


गले मिलने का मतलब ‘गठबंधन’ नहीं : केजरीवाल
उल्‍लेखनीय है कि लालू प्रसाद यादव के साथ गले लगने वाली उनकी तस्वीर वायरल हो जाने के बाद सोमवार को अपने भ्रष्टाचार विरोधी साख का बचाने का प्रयास करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि राजद प्रमुख ने ‘उन्हें खींचा और गले लगा लिया’ और इसका मतलब ‘गठबंधन’ नहीं है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement