NDTV Khabar

आरएसएस नेता सुरेश भैयाजी जोशी बोले - देश में चीन की 'आर्थिक घुसपैठ' रोकी जानी चाहिए

हम नागरिकों को भारत के बाजार में चीन की घुसपैठ रोककर देश को आर्थिक गुलामी से बचाना होगा. इसके लिये हमें अपने मन के साथ आचरण में भी स्वदेशी भाव जगाना होगा.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आरएसएस नेता सुरेश भैयाजी जोशी बोले - देश में चीन की 'आर्थिक घुसपैठ' रोकी जानी चाहिए

आरएसएस के लिए प्रतीकात्मक फोटो

इंदौर:

पिछले डेढ़ महीने से भी ज्यादा समय से भारत और चीन के बीत डोकलाम मुद्दे पर तनाव चला आ रहा है. अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर-कार्यवाह (महासचिव) सुरेश भैयाजी जोशी ने कहा कि स्वदेशी उत्पादों के ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल के जरिये मुल्क में चीन की आर्थिक घुसपैठ रोकी जानी चाहिये. जोशी ने स्वतंत्रता दिवस पर यहां एक कार्यक्रम में महाविद्यालयी के विद्यार्थियों के बीच तिरंगा फहराने के कार्यक्रम में कहा, 'सीमा पार से होने वाली घुसपैठ तो हमारी सेना के मुस्तैद जवान रोक लेंगे. लेकिन हम नागरिकों को भारत के बाजार में चीन की घुसपैठ रोककर देश को आर्थिक गुलामी से बचाना होगा. इसके लिये हमें अपने मन के साथ आचरण में भी स्वदेशी भाव जगाना होगा.'

उन्होंने कहा कि भारत के बाजार पर क​ब्जे के लिये चीन निरंतर प्रयास कर रहा है. इसलिये चीनी वस्तुओं का बहिष्कार कर इन्हें अपने जीवन से दूर किया जाना चाहिये.


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : हामिद अंसारी की टिप्‍पणियों को मुस्लिम समुदाय में सुनने वाला कोई नहीं: RSS नेता इंद्रेश कुमार

जोशी ने स्वदेश में बनी वस्तुओं के अधिकाधिक उपयोग की जरूरत पर जोर देते हुए कहा, 'हम आधुनिकता के विरोधी न बनें. लेकिन आर्थिक नजरिये से किसी मुल्क के गुलाम भी न बनें.' उन्होंने यह भी कहा कि प्रगति तथा स्वावलम्बन के रास्ते पर भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है. युवा पीढ़ी को चाहिये कि वे भविष्य के भारत निर्माण में योगदान करे. कार्यक्रम के अंत में महाविद्यालयी विद्यार्थियों एवं अन्य श्रोताओं को चीनी वस्तुओं के बहिष्कार की शपथ दिलायी गयी.
VIDEO : RSS पर तेजस्वी यादव का हमला

इस बीच, शहर में स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह रस्तमजी सशस्त्र पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय (आरएपीटीसी) मैदान पर आयोजित हुआ. समारोह में मध्यप्रदेश की नगरीय विकास मंत्री माया सिंह ने ध्वजारोहण किया और रस्मी परेड की सलामी ली.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement