NDTV Khabar

प्रणब मुखर्जी की Fake फोटो पर RSS ने कहा, ‘यह संघ को बदनाम करने की घटिया चाल’

नागपुर में अपने कार्यक्रम में प्रणब मुखर्जी की तस्वीर के साथ छेड़छाड़ करके सोशल मीडिया पर जारी करने की निंदा करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कहा कि यह जानबूझकर संघ को बदनाम करने की विभाजनकारी राजनीतिक ताकतों की चाल है .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रणब मुखर्जी की Fake फोटो पर RSS ने कहा, ‘यह संघ को बदनाम करने की घटिया चाल’

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी संघ प्रमुख मोहन भागवत के साथ (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. प्रणब मुखर्जी की Fake फोटो पर RSS ने कड़ी आपत्ति जताई
  2. आरएसएस ने कहा कि यह संघ को बदनाम करने की कोशिश है
  3. फेक फोटो में प्रणब मुखर्जी को प्रार्थना की मुद्रा में दिखाया गया है
नई दिल्ली:

नागपुर में अपने कार्यक्रम में प्रणब मुखर्जी की तस्वीर के साथ छेड़छाड़ करके सोशल मीडिया पर जारी करने की निंदा करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कहा कि यह जानबूझकर संघ को बदनाम करने की विभाजनकारी राजनीतिक ताकतों की चाल है जिन्होंने डॉ. मुखर्जी को इस समारोह में भाग लेने से रोकने और विरोध करने का काम किया था. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सर कार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य ने एक बयान में कहा कि कुछ विभाजनकारी राजनीतिक तत्वों ने नागपुर में कल आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक समारोह से जुड़ी एक झूठी तस्वीर पोस्ट की जिसमें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को प्रार्थना की मुद्रा में दिखाया गया है. 

यह भी पढ़ें: संघ के कार्यक्रम में प्रणब मुखर्जी के भाषण के बाद कांग्रेस नेताओं ने ली राहत की सांस, आनंद शर्मा के भी बदले सुर


टिप्पणियां

वैद्य ने कहा कि इन्हीं ताकतों ने डॉ. मुखर्जी को इस समारोह में भाग लेने से रोकने और विरोध करने का काम भी किया था और अब ये हताश ताकतें संघ को बदनाम करने के लिये इस प्रकार की घटिया चालें चल रही हैं. संघ के सह सर कार्यवाह ने कहा, ‘‘ हम जानबूझकर संघ को बदनाम करने के लिये इन विभाजनकारी राजनीतिक ताकतों द्वारा चलाई जा रही ऐसी कुत्सित चालों की निंदा और निषेध करते हैं.’’ 

VIDEO: संघ मुख्‍यालय में प्रणब मुखर्जी ने राष्‍ट्रवाद पर रखे अपने विचार
 
उल्लेखनीय है कि प्रणब मुखर्जी की पुत्री और कांग्रेस की नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने गुरुवार को आरएसएस के कार्यक्रम से जुड़ी मुखर्जी की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ करके सोशल मीडिया में शेयर किए जाने पर कहा था, ‘‘देखिए, मुझे इसी का डर था और इसके बारे में मैंने अपने पिता को आगाह किया था.’’ उन्होंने कहा था कि कुछ घंटे भी नहीं बीते कि भाजपा एवं आरएसएस का डर्टी ट्रिक्स विभाग अपने काम में जुट गया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement