NDTV Khabar

मोदी सरकार राम मंदिर निर्माण का वादा पूरा करे, क्योंकि इसी आधार पर मिला था बहुमत : RSS

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने कहा कि मोदी सरकार को अपने कार्यकाल में ही राम मंदिर निर्माण का वादा पूरा करना चाहिए, क्योंकि उसे इस आश्वासन के आधार पर ही बहुमत मिला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मोदी सरकार राम मंदिर निर्माण का वादा पूरा करे, क्योंकि इसी आधार पर मिला था बहुमत : RSS

आरएसएस ने कहा कि मोदी सरकार को मंदिर निर्माण के आश्वासन के आधार पर ही बहुमत मिला था.

नई दिल्ली :

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने कहा कि मोदी सरकार को अपने कार्यकाल में ही राम मंदिर निर्माण का वादा पूरा करना चाहिए, क्योंकि उसे इस आश्वासन के आधार पर ही बहुमत मिला. आरएसएस ने कहा कि 2014 के भाजपा के चुनावी घोषणापत्र में अयोध्या में राममंदिर (Ram Temple in Ayodhya) बनाने के लिए संविधान के दायरे में उपलब्ध सभी संभव प्रयास करने का वादा किया गया था. इस प्रस्ताव में भाजपा ने कहा था कि अयोध्या में राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर (Ram Mandir) बनाने के लिए परस्पर संवाद से अथवा क़ानून बनाने का प्रयास करेंगे. इस वादे पर ही भारत की जनता ने उनपर विश्वास व्यक्त कर भाजपा को बहुमत दिया था. आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले ने कहा कि आरएसएस ने कहा कि राम मंदिर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणियां मंदिर निर्माण की दिशा में एक सकारात्मक कदम प्रतीत होती हैं. दूसरी तरफ, आरएसएस के वरिष्ठ नेता भैयाजी जोशी ने कहा कि हमने इस संबंध में कानून बनाने की अपनी मांग को आगे रखा है. देश का हर व्यक्ति चाहता है कि राम मंदिर का निर्माण हो. यहां तक ​​कि जो लोग सत्ता में हैं, उन्होंने भी कहा है कि राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए. 

 


 

आपको बता दें कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाने पर फैसला न्यायिक प्रक्रिया के पूरा होने के बाद ही लिया जाएगा. पीएम नरेंद्र मोदी ने समाचार एजेंसी ANI को दिये इंटरव्यू में कहा कि 'एक बार कानूनी प्रक्रिया पूरी हो जाने दीजिये. इसके बाद हमारी जो भी जिम्मेदारी होगी, हम हर प्रयास करने के लिये तैयार हैं'. पीएम ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे का हल संविधान के दायरे में ही संभव है. पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के वकीलों ने अयोध्या मसले पर कानूनी प्रक्रिया में अड़चनें पैदा की. इसकी वजह से कानूनी प्रक्रिया धीमी पड़ गई.  

पीएम नरेंद्र मोदी बोले, कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश संभव

टिप्पणियां

VIDEO : कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश संभव : पीएम नरेंद्र मोदी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement