SAIL ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में व्यापक स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने कोरोना वायरस की महामारी से लड़ने के लिए अपने 5 एकीकृत इस्पात संयंत्रों के 5 मुख्य अस्पतालों के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में बड़ी संख्या में विभिन्न स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई हैं.

SAIL ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में व्यापक स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई

SAIL कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करा रहा है.

नई दिल्ली:

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने कोरोना वायरस की महामारी से लड़ने के लिए अपने 5 एकीकृत इस्पात संयंत्रों के 5 मुख्य अस्पतालों के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में बड़ी संख्या में विभिन्न स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई हैं. ये पांच अस्पताल हैं: जेएलएन अस्पताल और अनुसंधान केंद्र (भिलाई), दुर्गापुर स्टील प्लांट मुख्य अस्पताल (दुर्गापुर),  इस्पात जनरल अस्पताल (राउरकेला),  बोकारो जनरल अस्पताल (बोकारो) और  बर्नपुर अस्पताल (इस्को स्टील प्लांट, बर्नपुर. सेल ने कोरोना संक्रमण के मामलों से निपटने के लिए इन अस्पतालों में अन्य आवश्यक स्वास्थ्य उपकरणों के साथ ही विशेष रूप से आइसोलेशन वार्ड, क्वारन्टीन फेसिलिटीज़, आईसीयू बेड की व्यवस्था की है. 

सेल ने इन स्वास्थ्य सुविधाओं को स्थानीय प्रशासन के उपयोग के लिए उपलब्ध करा दिया है. कंपनी स्व-सहायता समूहों के माध्यम से मास्क का उत्पादन भी कर रही है और बड़ी मात्रा में मास्क, पीपीई बना रही है. इसके साथ ही सभी स्वास्थ्य इकाइयों और कार्य क्षेत्रों में सेनेटाइज़िंग फेसेलिटी उपलब्ध है. इन पांच अस्पतालों में आज की तारीख तक कंपनी ने 330 बेड का आइसोलेशन वार्ड और 592 बेड की क्वारन्टीन फेसिलिटीज़ की सुविधा उपलब्ध कराई है. सेल के राउरकेला स्टील प्लांट ने ओडिशा सरकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए उसे 5 वेंटिलेटर यूनिट सौंप रहा है.

कंपनी लगातार स्थिति की निगरानी कर रही है और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में सर्वोत्तम संभव तरीके से आवश्यक व्यवस्था उपलब्ध कराने में जुटी हुई है. सैनिटाइज़र, मास्क और पीपीई आदि की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पूरी व्यवस्था की गई है.

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: कितने तैयार हैं हम और हमारे वैज्ञानिक?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com