शिवराज सिंह की एक्टिंग के आगे तो सलमान और शाहरुख भी शर्मा जाएंगे: कमलनाथ

पूर्व सीएम कमलनाथ ने गुना जिले के बमोरी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को निशाना बनाया

शिवराज सिंह की एक्टिंग के आगे तो सलमान और शाहरुख भी शर्मा जाएंगे: कमलनाथ

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (फाइल फोटो).

गुना:

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) जिस तरह की एक्टिंग करते हैं, उससे तो देश के एक्टर सलमान खान और शाहरुख भी शर्मा जाएंगे तथा यदि शिवराज मुंबई चले जाएं तो ये दोनों एक्टर उनसे पीछे रह जाएंगे. राज्य में विधानसभा की 28 रिक्त सीटों के लिए तीन नवंबर को उपचुनाव (By Election) के तहत सत्तारूढ़ बीजेपी (BJP) और विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) में तगड़ी भिड़ंत हो रही है. कमलनाथ ने गुना जिले के बमोरी में मंगलवार को एक चुनावी सभा को संबोधित किया. 

कमलनाथ ने चुनावी सभा में कहा कि ‘‘शिवराज पहले मामा थे, लेकिन जिस तरह का वह अभिनय करते हैं, उससे तो देश के एक्टर सलमान और शाहरुख भी शर्मा जाएं. यदि शिवराज मुंबई चले जाएं तो ये दोनों अभिनेता भी पीछे रह जाएंगे.'' इस उपचुनाव में बमोरी सीट पर भाजपा से कांग्रेस में शामिल हुए के.एल अग्रवाल उम्मीदवार हैं तो कांग्रेस से मार्च में भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के कट्टर समर्थक महेन्द्र सिंह सिसोदिया भगवा दल के प्रत्याशी हैं.

कमलनाथ ने कहा कि केवल 15 महीनों में उन्होंने (कांग्रेस) प्रदेश के किसानों का कर्ज माफ कर दिया. कांग्रेस ने मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान चलाया और लोगों का बिजली का बिल केवल 100 रुपये कर दिया तथा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि दोगुनी कर दी.


उन्होंने बीजेपी पर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार को गिराने का षड्यंत्र करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार को सबक सिखाकर बमोरी की जनता नया उदाहरण पेश करे.  कमलनाथ ने कहा कि वह पूरे प्रदेश में घूम रहे हैं और जनता भाजपा की ‘‘करतूत'' से नाराज है. यह उपचुनाव इस नाराज़गी को बयां करने का जरिया है. इसमें लोग पूरी शिद्दत के साथ भाजपा को सबक सिखाएं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पूर्व मुख्यमंत्री ने प्रदेश के अतिथि शिक्षकों के लिए कहा कि वह प्रदेश में रोज़गार देने के लिए प्रतिबद्ध हैं तथा अतिथि शिक्षकों की भी चिंता की जाएगी.