NDTV Khabar

सपा मुखिया अखिलेश यादव का बड़ा बयान-यूपी चुनाव के लिए गई थी नोटबंदी

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से 2016 में की गई नोटबंदी को लेकर बड़ा बयान दिया है.

6.8K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सपा मुखिया अखिलेश यादव का बड़ा बयान-यूपी चुनाव के लिए  गई थी नोटबंदी

एनडीटीवी को इंटरव्यू देते सपा प्रमुख अखिलेश यादव.

नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) ने कहा कि बीजेपी जनता को धोखे देकर वोट लेने में माहिर है. नोटबंदी करते वक्त उन्होंने कहा कि  इससे अमीरों को नुकसान और गरीबों को लाभ होगा और भ्रष्टाचार जड़ से खत्म हो जाएगा. मगर हकीकत क्या है. अब जाकर जनता को पता चली. जीएसटी को लेकर भी भ्रम फैलाया गया. कहा गया कि व्यापारी वर्ग को लाभ होगा. व्यापार करना बहुत आसान होगा. मगर, नतीजा क्या निकला कि जीएसटी ने व्यापारियों को ही फंसा दिया. परेशान होकर व्यापारियों ने आत्महत्या कर ली. अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव के समय जीएसटी में संशोधन हो जाता है. उन्होंने दावा किया कि बीजेपी ने यूपी के चुनाव के लिए ही नोटबंदी की थी. नोटबंदी के बहकावे में लोग आ गए थे. मगर, अब जनता इंतजार कर रही है कि चुनाव का दिन कब आएगा. बीजेपी की लोकसभा और यूपी के चुनाव में जीत के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि अब पोल खुल रही है. मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, में हाल में हुए चुनाव में बीजेपी क्यों हारी, कैराना में भी हार गई, जहां से बीजेपी ने मारने-पीटने की आग लगाई थी. मतलब, जनता नाराज है. अब सबक सिखाना चाहती है.

कांग्रेस को साथ लेने पर अभी फैसला नहीं
पत्नी डिंपल यादव के संसदीय क्षेत्र कन्नौज में एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत के दौरान अखिलेश यादव ने कई मसलों पर चर्चा की. अखिलेश यादव ने यूपी में बन रहे इस गठबंधन में कांग्रेस को साथ लेने के सवाल पर कहा कि कांग्रेस के बारे में कुछ नहीं कह सकता. कांग्रेस राष्ट्रीय पार्टी है. यूपी में कांग्रेस पार्टी के नेता हैं. लेकिन गठबंधन में किस तरीके से साथ होगा, या नहीं होगा, अभी कह पाना मुश्किल है.  क्या दिल से यह चाहेंगे कि कांग्रेस भी साथ आ जाए ? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि आज इस पर इसलिए नहीं बोलूंगा कि कल का अहम दिन है.  कल ऐलान होना है. गठबंधन की पहले बात पहले हो जाए, तब कुछ कहूंगा. मैं मानता हूं कि बहुत जल्दबाजी नहीं करना चाहिए. बाद में सोचेंगे कि आगे कैसे रास्ता निकलेगा. क्या यह बेमेल गठबंधन है ? या फिर आप लोग मोदी हेट की वजह से साथ आए हैं ? इस सवाल का जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा कि कोई यह नहीं कह सकता है. हम बसपा से कोई लड़ते जरूर हैं. मगर संबंध नहीं खराब थे. मेरे तो कतई नहीं. उन्होंने कहा कि बीजपी से सीख कर हम अपना वोट बढ़ाएंगे.
 


बीजेपी ने की वादाखिलाफी
अखिलेश यादव ने बीजेपी की केंद्र और राज्य सरकार पर वादाखिलाफी करने का आरोप लगाया. कहा कि बीजेपी से लोग यह जानना चाहते हैं कि कि अब प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, सभी सांसद और विधायक आपके हैं तो फिर .इतना कुछ होने के बाद भी जनता को कुछ नहीं मिला. क्या किसानों का कर्जमाफी पूरा हुआ. क्या किसान खुशहाल हो गया. क्या आगरा लखनऊ से बेहतर कोई सड़क बनाई. अखिलेश यादव ने कहा कि उनकी सरकार ने जब पूर्वांचल एक्सप्रेस के लिए पैसा मांगा तो केंद्र सरकार ने पैसा नहीं दिया. लेकिन मेरी जानकारी में आया है कि उन्हीं के  कैबिनेट मंत्री नितिन गडकरी ने अपनी सड़क के लिए दिल्ली के बजट से पैसा दे दिया. यह भेदभाव क्यों.

टिप्पणियां

वीडियो- Exclusive: बीएसपी-सपा दुश्मन नहीं हैं, NDTV से बोले अखिलेश यादव


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement