जम्मू-कश्मीर में तोहफों की होम डिलीवरी, लोगों को पसंद आ रहा 24 साल की समर का ये आइडिया

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में एक 24 वर्षीय महिला ने तोहफों की होम डिलीवरी शुरू की और इस काम में सफलता उनके कदम चूमने लगी.

जम्मू-कश्मीर में तोहफों की होम डिलीवरी, लोगों को पसंद आ रहा 24 साल की समर का ये आइडिया

समर शॉल ने तोहफों की होम डिलीवरी शुरू की है. (सांकेतिक तस्वीर)

खास बातें

  • 24 साल की समर ने शुरू किया अपना काम
  • तोहफों की होम डिलीवरी का बिजनेस
  • लोगों को पसंद आ रहा समर का यह आइडिया
श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में एक 24 वर्षीय महिला ने तोहफों की होम डिलीवरी शुरू की और इस काम में सफलता उनके कदम चूमने लगी. समर शॉल एक कारोबारी परिवार से ताल्लुक रखती हैं. बचपन से ही समर गिफ्ट पैक करने में माहिर थीं और वह स्वतंत्र रूप से काम करना चाहती थीं. उन्होंने कहा, 'मैं हमेशा से स्वतंत्र रूप से काम करना चाहती थी और कुछ ऐसा करना चाहती थी कि मैं ग्राहकों से खुद सीधे बात कर सकूं.'

अपने बिजनेस के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि वह लोगों को तरह-तरह के गिफ्ट हैंपर मुहैया कराती हैं. समर खुद ग्राहकों से बात करके उनके बजट के मुताबिक गिफ्ट दिलाती हैं. उन्होंने कहा, 'हम ग्राहकों को उनके बजट के हिसाब से तोहफे मुहैया कराते हैं. हमने इसे तीन कैटेगरी- बेसिक, प्रीमियम और एलीट, में बांट रखा है. जब हम ग्राहकों को गिफ्ट लेने में मदद करते हैं तो उनके लिए गिफ्ट कॉम्बो को पसंद करना और भी आसान हो जाता है.'

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने शुरु की "पूजा प्रसाद" होम डिलीवरी सेवा

ग्राहकों का ध्यान आकर्षित करने के लिए समर इंस्टाग्राम और फेसबुक के जरिए भी गिफ्ट्स का ऑर्डर लेती हैं. वह कस्टमर्स के रिस्पॉन्स से काफी खुश हैं. समर कहती हैं कि इस काम में उन्हें परिवार का पूरा साथ मिला है. उनके माता-पिता उन्हें काफी सपोर्ट करते हैं. उन्होंने कहा, 'मेरा रिबन्स बाय समर शॉल नाम से एक इंस्टाग्राम अकाउंट है और मेरा फेसबुक पर भी अकाउंट है. हम इन प्लेटफॉर्म्स से भी ऑर्डर लेते हैं. जब हमें ऑर्डर मिलता है तो हम कस्टमर को फोन करते हैं और उन्हें अलग-अलग कैटेगरी के बारे में बताते हुए गिफ्ट सलेक्ट करने में मदद करते हैं.'

ई-लर्निंग के लिए 2G पर्याप्त : केंद्र ने कश्मीर में इंटरनेट पाबंदी का किया बचाव

समर श्रीनगर स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल की छात्रा रह चुकी हैं. ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने इस बिजनेस की शुरूआत की. उन्होंने बताया, 'मैंने अवंतीपोरा स्थित इस्लामिक यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी से BBA और MBA किया है. जब मैं तीसरे सेमेस्टर में थी तो मेरे पास अपना काम शुरू करने के 3-4 आइडिया थे लेकिन बाद में उनपर किसी और ने काम शुरू कर दिया. फिर मुझे गिफ्ट के बिजनेस का आइडिया आया और मुझे लगा कि मुझे इसपर काम करना चाहिए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: जम्मू-कश्मीर के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)