संजय राउत ने इंदिरा गांधी पर दिया बयान तो संजय निरुपम ने कहा- 'कभी-कभी अधकचरा ज्ञान वीभत्स हो जाता है'

शिवसेना नेता संजय राउत के इंदिरा गांधी के ऊपर दिये गए बयान के बाद राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है. जहां एक तरफ बीजेपी ने उनके बयान के आधार पर कांग्रेस को घेरना शुरु कर दिया है

संजय राउत ने इंदिरा गांधी पर दिया बयान तो संजय निरुपम ने कहा- 'कभी-कभी अधकचरा ज्ञान वीभत्स हो जाता है'

संजय निरूपम (फाइल फोटो)

मुंबई:

शिवसेना नेता संजय राउत के इंदिरा गांधी के ऊपर दिये गए बयान के बाद राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है. जहां एक तरफ बीजेपी ने उनके बयान पर कांग्रेस को घेरना शुरु कर दिया है वहीं दूसरी तरफ अब कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने भी सजंय राउत पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने संजय राउत पर हमला बोलते हुए कहा है कि बेहतर होगा कि शिवसेना के मि.शायर दूसरों की हल्की-फुल्की शायरी सुनाकर महाराष्ट्र का मनोरंजन करते रहें. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के खिलाफ दुष्प्रचार करेंगे तो उन्हें पछताना पड़ेगा. कल उन्होंने इंदिराजी के बारे में जो बयान दिया है वो वापस ले लें.

इसके अलावा संजय निरुपम ने एक और ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने लिखा है, 'कभी-कभी अधकचरा ज्ञान वीभत्स हो जाता है. शिवसेना के मि.शायर ने कहा है कि माफिया सरगना करीम लाला पठान समुदाय का नेता था. चौंकिएगा मत अगर कल ये कहें कि दाऊद इब्राहिम कोंकणी मसलमानों का नेता है.'

गौरतलब है कि इससे पहले बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला है उन्होंने कहा है कि क्या कांग्रेस उस समय अंडरवर्ल्ड के भरोसे चुनाव जीतती थी, क्या कांग्रेस को अंडरवर्ल्ड से फाइनेंस मिलता था. संजय राउत ने खुलासा किया है कि उस समय 1960 से 1980 तक मुंबई के कमिश्नर की नियुक्ति अंडरवर्ल्ड करता था क्या यह सच है? कांग्रेस के बड़े नेताओं को इस मुद्दे पर जवाब देना चाहिेए.

संजय राउत के बयान पर देवेंद्र फड़णवीस ने कांग्रेस को घेरा, कहा- क्या कांग्रेस उस समय अंडरवर्ल्ड के भरोसे चुनाव जीतती थी?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि हाल ही में कांग्रेस,शिवसेना और राकपा ने मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाया है.शिवसेना नेता संजय राउत लगातार अपने बयानों के लेकर चर्चाओं में रहते हैं बुधवार को उन्होंने कहा था कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह कट्टर राष्ट्रवादी हैं लेकिन उन्हें यह तथ्य समझना चाहिए कि देश में लोकतंत्र है. शिवसेना से राज्यसभा के सदस्य मीडिया समूह लोकमत की ओर से आयोजित पुरस्कार समारोह में बोल रहे थे. लोगों के साथ साक्षात्कार के दौरान उनसे कुछ लोकप्रिय नेताओं के गुण बताने और उन्हें कुछ सलाह देने को कहा गया था. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में राउत ने कहा कि वह बहुत मेहनती व्यक्ति हैं. ‘‘मेरे पास उनका सलाह देने का अधिकार नहीं है. वह प्रधानमंत्री हैं.''

VIDEO: नागरिकता संशोधन बिल पर बोले संजय राउत- ये पाकिस्तान की नहीं भारत की संसद है