महाराष्‍ट्र में धार्मिक स्‍थलों को खोलने के बारे में उद्धव सरकार जल्‍द ही लेगी फैसला: संजय राउत

संजय राउत ने कहा कि आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में शिवसेना कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, इस पर भी एक या दो दिन में निर्णय लिये जाने की संभावना है.

महाराष्‍ट्र में धार्मिक स्‍थलों को खोलने के बारे में उद्धव सरकार जल्‍द ही लेगी फैसला: संजय राउत

संजय राउत ने कहा, महाराष्‍ट्र सरकार की धार्मिक संगठनों ने बात चल रही है (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कहा, धार्मिक संगठनों से इस बारे में हो रही बात
  • धर्मस्‍थलों को महाराष्‍ट्र में अभी भी खोलने की नहीं है इजाजत
  • रेस्‍त्रां को 50% क्षमता के साथ खोलने की मिली है अनुमति
मुंंबई:

Coronavirus Pandemic: शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने सोमवार को कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) विभिन्न धार्मिक संगठनों के साथ बातचीत कर रहे हैं और वह राज्य में प्रार्थना स्थलों को खोलने पर शीघ्र निर्णय लेंगे. राउत ने यह बात तब कही जब कुछ संवाददाताओं ने इंगित किया है कि राज्य में रेस्त्रां को अपनी क्षमता के अनुसार 50 फीसदी तक या स्थानीय अधिकारियों द्वारा तय नियमों के तहत खोले जाने की मंजूरी दी गई, लेकिन राज्य में मंदिरों को अब भी खोलने की इजाजत नहीं दी गई है. शिवसेना सांसद ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ने शुरू से ही यह कहा है कि अनलॉक की प्रक्रिया (Unlock Process) चरणबद्ध तरीके से होगी. आप रेस्त्रां को खोलते हुए उस पर 50 फीसदी वाला प्रतिबंध लगा सकते हैं लेकिन मंदिरों के संबंध में यह संभव नहीं है.'' 

 स्‍कूल फिर खोलने के लिए गाइडलाइंस: पेरेंट्स की सहमति जरूरी, अटेंडेंस नीतियों में रखें लचीलापन

राउत ने कहा, ‘‘ राज्य के मुख्यमंत्री सभी धर्मों के संगठनों से बात कर रहे हैं. शीघ्र ही वे इस पर निर्णय लेंगे.'' राज्यसभा सदस्य ने कहा कि आगामी बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में शिवसेना (Shiv Sena) कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, इस पर भी एक या दो दिन में निर्णय लिये जाने की संभावना है. उन्होंने कहा, ‘‘ बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने पर चर्चा हो रही है. बिहार में हमारे लोग चाहते हैं कि हम 50 सीटों पर चुनाव लड़ें. लेकिन हम यह कह रहे हैं कि हमें 30 से 40 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहिए. इस पर एक या दो दिन में फैसला हो जाएगा.'' 

राउत से जब यह पूछा गया कि क्या शिवसेना बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय के खिलाफ उम्मीदवार उतारेगी तो उन्होंने कहा, ‘‘ देखिए क्या होता है, मैं खुद बिहार जाऊंगा और इसका जवाब मैं तभी दूंगा जब मैं वहां जाऊंगा.'' पांडेय ने बिहार पुलिस प्रमुख रहते हुए अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सीबीआई जांच की मांग में सक्रिय भूमिका निभाई थी. पांडेय ने समय से पहले ऐच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली और वह अब नीतीश कुमार की पार्टी जद(यू) की सदस्यता भी ले चुके हैं और उनके चुनाव लड़ने की खबरें भी आ रही हैं.

Newsbeep

अफवाह बनाम हकीकत : क्या कोरोना मामलों के ठहराव में पहुंचा भारत?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)