NDTV Khabar

शिवसेना बुलेट ट्रेन परियोजना का 'बोझ' लोगों के सिर डालने के खिलाफ है : संजय राउत

महाराष्ट्र में नई Congress-NCP और  शिवसेना सरकार के बाद से अहमदाबाद से मुंबई तक चलने वाली बुलेट ट्रेन परियोजना को लेकर कई तरह के कयास लगा जाए रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शिवसेना बुलेट ट्रेन परियोजना का 'बोझ' लोगों के सिर डालने के खिलाफ है : संजय राउत

शिवसेना नेता संजय राउत ने बुलेट ट्रेन परियोजना पर बयान दिया है (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में नई Congress-NCP और  शिवसेना सरकार के बाद से अहमदाबाद से मुंबई तक चलने वाली बुलेट ट्रेन परियोजना को लेकर कई तरह के कयास लगा जाए रहे हैं. गठबंधन के नेता पहले ही संकेत दे चुके थे कि उनकी सरकार आने के बाद पीएम मोदी की इस महत्वाकांक्षी परियोजना की समीक्षा की जाएगी क्योंकि वे महाराष्ट्र पर इसका बोझ नहीं डालने चाहते हैं यही पैसा राज्य के किसानों पर खर्च किया जाएगा. इसी बीच शिवनेता संजय राउत ने कहा है कि  पार्टी बुलेट ट्रेन परियोजना का ‘‘बोझ'' लोगों के सिर डालने के खिलाफ है.  उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र की आर्थिक स्थिति बेहद गंभीर है.  वहीं बीजेपी की पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे के शिवसेना में शामिल होने के सवाल पर राउत ने कहा, कई नेता हमारे सम्पर्क में हैं.  इसके बाद जब संजय राउत से अनंत हेगड़े के 40 हजार करोड़ रुपये वाले बयान पर सवाल पूछा गया तो संजय राउत ने कहा कि बीजेपी और फडणवीस राज्य के अपराधी हैं, मुख्य सचिव और उद्धव ठाकरे राशि लौटाने पर स्पष्टीकरण देंगे.

पंकजा मुंडे को लेकर क्यों लग रहे हैं कयास
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में चचेरे भाई के हाथों परली विधानसभा सीट चुनाव हारने के पीछे भितरघात की आशंकाओं के बाद से पंकजा मुंडे बीजेपी से नाराज बताई जाती हैं. उनके ट्विटर प्रोफाइल से 'बीजेपी' का टैग हटाए जाने और रविवार को लिखे एक फेसबुक पोस्ट से इस बात के संकेत मिलते हैं कि पंकजा ने पिता गोपीनाथ मुंडे की जयंती 12 दिसंबर को समर्थकों की एक बैठक बुलाई है, जिसमें वह कोई बड़ा फैसला ले सकती हैं. समर्थकों का आरोप है कि ओबीसी वर्ग और पार्टी में नेतृत्व खत्म करने के लिए बीजेपी के कुछ नेताओं ने ही पंकजा को चुनाव में हराया.  मराठी में लिखे इस पोस्ट मे उन्होंने कहा है, "बदले राजनीतिक माहौल को देखते हुए यह सोचने की जरूरत है कि आगे क्या किया जाए? अपनी शक्ति पहचानने की जरूरत है. मुझे स्वयं से बात करने के लिए 8-10 दिनों की जरूरत है."


बुलेट ट्रेन नहीं किसान प्राथमिकता: दीपक केसरकर​


 

अन्य खबरें :

टिप्पणियां

PM मोदी के पुराने प्रोजेक्ट्स पर संकट के बादल? महाराष्ट्र की नई सरकार बुलेट ट्रेन जैसे प्रोजेक्ट्स पर लगा सकती है रोक

बुलेट ट्रेन परियोजना की समीक्षा करेगी महाराष्ट्र सरकार: CM उद्धव ठाकरे



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement