एसीबी प्रमुख होंगे संजीव चतुर्वेदी, केजरीवाल के शपथ ग्रहण के बाद होगी नियुक्ति : सूत्र

एसीबी प्रमुख होंगे संजीव चतुर्वेदी, केजरीवाल के शपथ ग्रहण के बाद होगी नियुक्ति : सूत्र

नई दिल्ली:

एम्स के पूर्व सीवीओ संजीव चतुर्वेदी को दिल्ली सरकार के एंटी करप्शन ब्यूरो का प्रमुख बनाया जा सकता है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि संजीव चतुर्वेदी के साथ बातचीत हो चुकी है और अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण के बाद उनकी नियुक्ति की जाएगी।

संजीव चतुर्वेदी एक आईएफएस अधिकारी हैं, जिन्हें पिछले साल सितंबर में एम्स के सीवीओ पद से हटा दिया गया था। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था और इसे लेकर एनडीए सरकार की काफी किरकिरी हुई थी।

गौरतलब है कि अपने दो साल के कार्यकाल में चतुर्वेदी ने एम्स के भीतर भ्रष्टाचार के 150 से अधिक मामलों को उजागर किया, जिसमें करीब 80 मामलों में आरोपियों को सजा हो चुकी है।

संजीव चतुर्वेदी को केंद्र सरकार ने पिछले 14 अगस्त को देश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एम्स के सीवीओ पद से हटा दिया था। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा था कि चतुर्वेदी का एम्स के सीवीओ पद पर रहना असंवैधानिक है। डॉ. हर्षवर्धन ने ट्वीट कर यह भी कहा था कि सीवीसी ने दो बार चतुर्वेदी का नाम खारिज किया, लेकिन बाद में खुद सीवीसी ने इस मामले में स्वास्थ्य मंत्रालय से अपना पक्ष स्पष्ट करने को कहा था।

गौरतलब है कि सीवीओ पद से हटाए जाने के बाद संजीव चतुर्वेदी ने सीवीसी के सामने अपना पक्ष रखा था। चतुर्वेदी ने सीवीसी को बताया कि बीजेपी नेता जेपी नड्डा के राजनीतिक दबाव के चलते उन्हें सीवीओ के पद से हटाया गया है।

अपनी दलील में चतुर्वेदी ने सीवीसी के सामने जेपी नड्डा की ओर से स्वास्थ्य मंत्री को लिखी चिट्ठियां दिखाईं। इन चिट्ठियों में नड्डा ने न केवल चतुर्वेदी को एम्स सीवीओ पद से हटाने की मांग की थी, बल्कि नए सीवीओ का नाम भी सुझाया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com