NDTV Khabar

सत्यपाल मलिक ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कहा- उनका बर्ताव 'पॉलिटिकल जुवेनाइल' की तरह, देखें VIDEO

सत्यपाल मलिक ने कहा कि मैं बस इतना कहना चाहता हूं कि जब उनके नेता संसद में कश्मीर के मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बता रहे थे तब राहुल को जिम्मेदार नेता की तरफ उन्हें रोकना चाहिए था और खुद खड़े होकर बोलना चाहिए था कि कश्मीर पर कांग्रेस की राय वही है जो पूरे देश की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. सत्यपाल मलिक ने राहुल गांधी पर साधा निशाना
  2. कहा- राहुल को कुछ कहने से पहले सोचना चाहिए
  3. राहुल अपने नेता को तो रोक नहीं पाए, और क्या ही करेंगे- मलिक
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखा हमला किया है. उन्होंने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि राहुल गांधी ने इस पूरे मसले पर एक 'पॉलिटिकल जुवेनाइल' की तरह बर्ताव किया है. मैं बस इतना कहना चाहता हूं कि जब उनके नेता संसद में कश्मीर के मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बता रहे थे तब राहुल को जिम्मेदार नेता की तरफ उन्हें रोकना चाहिए था और खुद खड़े होकर बोलना चाहिए था कि कश्मीर पर कांग्रेस की राय वही है जो पूरे देश की है. लेकिन वह ऐसा नहीं कर पाए. 

राज्यपाल सत्यपाल मलिक बोले- राहुल गांधी को 'ओछी राजनीति' करने के बजाए राष्ट्रहित को ऊपर रखना चाहिए


बता दें कि सत्यपाल मिलक जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद वहां मौजूद हालात की जानकारी देने के लिए एक प्रेस वार्ता कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि वहां के मौजूदा हालात को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने कहा कि सरकार ने यह फैसला कश्मीर (Kashmir) और लद्दाख (Ladakh) के लोगों की बेहतरी के लिए लिया है. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में हालात सुधर रहे हैं. उन्होंने कहा कि यहां के लोग देश की तुलना में पीछे छूट रहे थे. यहां कुछ हो नहीं रहा था कोई इनवेस्टमेंट नहीं आ रहा था. अब इसपर बहस नहीं होनी चाहिए. अब हमें जम्मू कश्मीर और लद्दाख में इतना काम करना है कि लोग इसका उदाहरण दें. हम चाहते हैं कि जम्मू कश्मीर के लोग जब काम देखेंगे तो खुश होंगे. जब यह धारा हटाई गई तो हमारा फोकस था कि कानून व्यवस्था ऐसी रहे की किसी की जान न जाए. उन्होंने कहा कि अगले 2 से तीन महीने में 50 हजार से अधिक युवाओं को नौकरी दी जाएगी. केंद्र सरकार इस पर काम कर रही है.

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, सत्यपाल मलिक को जम्मू-कश्मीर बीजेपी का अध्यक्ष बनाना चाहिए

उन्होंने कहा कि बहुत शोर मचाया जा रहा है कि मोबाइल फोन नहीं चल रही और दिक्कत हो रही है. यह कोई पहला मौका नहीं है जब मोबाइल फोन बंद रखा गया है. 20 से 25 दिन की यह दिक्कत सबके बेहतरी के लिए लिया गया है. हमें लोगों की जिंदगी की कदर है. हमनें पंचायत चुनाव में इनती अच्छी व्यवस्था की कि किसी की भी जान नहीं  गई. यह हमारी उपलब्धि है. क्रॉस बॉर्डर फायरिंग में आज तक 40 हाजर लोग मारे गए हैं. आज ऐसे हालात हैं कि झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं. कहा जा रहा है कि अस्पताल में दवाइयां नहीं है, जबकि ऐसी कोई बात नहीं है. मैं लगातार दौरे कर रहा हूं. सभी तरह के इलाज के लिए सब सुविधाएं उपलब्ध हैं. लेकिन झूठ फैलाने वाले अपना काम कर रहे हैं. किसी की मौत की खबर नहीं छुपाई गई है. यह आरोप लगाना कि हम ऐसा कर रहे हैं यह गलत है.

टिप्पणियां

जम्मू कश्मीर में कब तक जारी रहेंगे प्रतिबंध, इस सवाल के जवाब में सत्यपाल मलिक ने कही ये बात

गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के कुछ दिन बाद ही सत्यपाल मलिक ने कश्मीर को लेकर राहुल गांधी के उस ट्विट पर पलटवार किया था जिसमें राहुल गांधी ने कश्मीर में हालात सामान्य न होने की बात कही थी. सत्यपाल मलिक ने राहुल गांधी को खुद आकर कश्मीर में हालात का जायजा लेने की बात कही थी. मलिक ने कहा था कि राहुल गांधी सिर्फ अफवाह फैला रहे हैं, अगर वह चाहें तो खुद आकर राज्य में सामान्य हो रहे हालात का जायजा ले सकते हैं. सत्यपाल मलिक के इस न्योते के जवाब में राहुल गांधी ने ट्विट किया था कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और कोई भी भारतीय देश में कहीं भी आ जा सकता है. हम भी कश्मीर आएंगे और वहां रहने वाले आम लोगों मिलकर उनका हाल जानने की कोशिश करेंगे. इसके बाद राहुल गांधी 11 अन्य नेताओं के साथ कश्मीर के लोगों से मिलने श्रीनगर पहुंचे थे लेकिन बाद में प्रशासन ने उन्हें कानून व्यवस्था का हवाला देकर श्रीनगर एयरपोर्ट से ही दिल्ली वापस भेज दिया था. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement