SBI ने होम लोन और एफडी की ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया है. एसबीआई ने मार्जिनल कॉस्ट बेस्ड लेडिंग रेट MCLR में 0.10 फीसदी कटौती का ऐलान किया है.

SBI ने होम लोन और एफडी की ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया

एसबीआई ने होम लोन और एफडी की ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया है

खास बातें

  • MCLR में 0.10 फीसदी की कटौती
  • होम लोन की ब्याज दरें कम
  • एफडी पर भी ब्याज घटाया
नई दिल्ली:

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया है. एसबीआई ने मार्जिनल कॉस्ट बेस्ड लेडिंग रेट MCLR में 0.10 फीसदी कटौती का ऐलान किया है. जो पहले MCLR 8.25 फीसदी थी अब घटकर  8.15 फीसदी सालाना कर दी गई है. एमसीएलआर के रेट कम होने से होम लोन भी  ब्याज दरें भी कम हो जाएंगी.  यह नई दरें 10 सितंबर से लागू हो जाएंगी. यह वित्तीय साल 2019-20 में यह पांचवा मौका है जब एसबीआई ने ब्याज दरों में कटौती की है. इसके साथ ही बैंक ने फिक्स डिपॉजिट पर भी कटौती का ऐलान किया है. रिटेल डिपॉजिट पर दरों में 0.25 फीसदी की कटौती और टर्म डिपॉजिट रेट पर 0.10 से 0.20 फीसदी की कटौती की है.

बैंक ने कहा है कि एक साल के लिये कर्ज की सीमांत लागत आधारित (एमसीएलआर) ब्याज दर ताजा कटौती के बाद घटकर 8.15 प्रतिशत रह जायेगी। बैंक की ज्यादातर ब्याज दरें इसी दर से जुड़ी रहतीं हैं. इससे पहले यह दर 8.25 प्रतिशत रही है. बैंक ने इसके साथ ही अपनी खुदरा सावधि जमा पर भी ब्याज दर में 0.20 से 0.25 प्रतिशत तक की कटौती की है. जबकि एकमुश्त बड़ी राशि की सावधि जमा की ब्याज दर में 0.10 से लेकर 0.20 प्रतिशत तक की कटौती की है. जमा पर ये कटौतियां भी मंगलवार से प्रभावी होंगी. बैंक ने कहा है कि घटती ब्याज दरों के मौजूदा परिवेश और उसके पास उपलब्ध अधिशेष नकदी को देखते हुये सावधि जमा की ब्याज दरों को परिस्थिति के अनुरूप किया गया है.

अन्य खबरें :

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

PPF, NCS और अन्‍य छोटी बचत योजनाओं में ब्‍याज दर 0.4 प्रतिशत बढ़ाई