NDTV Khabar

भगोड़े विजय माल्या को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में मची तू-तू, मैं-मैं के बीच अब स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की सफाई

बैंक ने बयान में कहा, ‘‘एसबीआई इस बात से इन्कार करता है कि किंगफिशर एयरलाइंस समेत कर्ज अदायगी नहीं होने के मामलों में उसकी या उसके अधिकारियों की तरफ से कोई कोताही बरती गयी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भगोड़े विजय माल्या को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में मची तू-तू, मैं-मैं के बीच अब स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की सफाई

फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की बंद हो चुकी विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के कर्ज अदायगी में असफल रहने के मामले से निपटने में उसकी ओर से कोई कमी नहीं छोड़ी गयी. एसबीआई का यह बयान ऐसे समय में आया है जब ऐसी खबरें सामने आयी हैं कि उसे माल्या को देश से भागने से रोकने के लिए फरवरी 2016 में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का सुझाव दिया गया था. लेकिन बैंक माल्या के भाग जाने के बाद कोर्ट गया था. माल्या दो मार्च 2016 को देश से भाग गया था जबकि बैंकों के समूह ने इसके चार दिन बाद सुप्रीम कोर्ट अपील की थी कि माल्या को देश से भागने से रोका जाए.     

वित्त मंत्री ने सीबीआई, एसएफआईओ, ईडी को क्यों नहीं बताया कि माल्या लंदन जा रहा है : कांग्रेस

टिप्पणियां
बैंक ने बयान में कहा, ‘‘एसबीआई इस बात से इन्कार करता है कि किंगफिशर एयरलाइंस समेत कर्ज अदायगी नहीं होने के मामलों में उसकी या उसके अधिकारियों की तरफ से कोई कोताही बरती गयी. बैंक ने फंसे पैसों की वसूली के लिए पूरी सक्रियता से व कठोर कदम उठाये हैं.’’ गौरतलब है कि माल्या पर किंगफिशर एयरलाइन पर 17 बैंकों के गठबंधन 9000 करोड़ रुपए से अधिक के कर्ज न चुकाने और कर्ज के पैसे के साथ हेराफेरी के मामले में कानूनी कार्रवाई चल रही है. वह इस समय लंदन में है और उसको भारत लाने की कानूनी कार्रवाई चल रही है.
मिशन 2019: हंगामा है क्यों बरपा?​

 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement