गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल के इस्तेमाल पर केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में सख्त कानून की वकालत की

गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल के इस्तेमाल पर केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में सख्त कानून की वकालत की

खास बातें

  • सुप्रीम कोर्ट ने भी सख्‍त कानून बनाने का समर्थन किया
  • इस मामले की अगली सुनवाई 6 दिसंबर को होगी
  • अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सरकार का पक्ष रखा
नई दिल्‍ली:

गाड़ी चलाते वक्त मोबाइल के इस्तेमाल पर केंद्र सरकार का पक्ष रखते हुए अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि मोबाइल के इस्तेमाल से हालात खराब, ऐसे मामलों से सख्ती से निपटने की जरूरत है. मोबाइल का इस्तेमाल करने वाले सिर्फ जुर्माना देकर छूट जाते हैं जबकि इसकी वजह से सड़कों पर लोगों की जान जा रही है.

Newsbeep

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लापरवाही से वाहन चलाने पर सख्‍त कानून बनना चाहिए. इस मामले की अगली सुनवाई 6 दिसंबर को होगी. लापरवाही से वाहन चलाने से मौत होने के मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (A) के तहत सुप्रीम कोर्ट ने सख्त कानून की वकालत की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोर्ट ने इस मुद्दे पर अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी को पेश होने को कहा था. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि हम पहले भी जजमेंट दे चुके हैं कि ऐसे  मामलों में सख्त कानूनी प्रावधान होने चाहिए. लेकिन सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया.दरअसल 304(A) के तहत दो साल तक की सजा का प्रावधान है और आरोपी को थाने से ही जमानत मिल जाती है.