NDTV Khabar

SC का मलयालम उपन्यास मीशा पर बैन लगाने से इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने मलयालम उपन्यास मीशा पर बैन लगाने से इनकार कर दिया है. कोर्ट ने किताब पर बैन लगाने वाली याचिका को भी खारिज कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
SC का मलयालम उपन्यास मीशा पर बैन लगाने से इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने मलयालम उपन्यास मीशा पर बैन लगाने से इनकार कर दिया है.

नई दिल्ली :
टिप्पणियां
सुप्रीम कोर्ट ने मलयालम उपन्यास मीशा पर बैन लगाने से इनकार कर दिया है. कोर्ट ने किताब पर बैन लगाने वाली याचिका को भी खारिज कर दिया है. मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि लेखक की कल्पना को स्वतंत्रता का आनंद लेना चाहिए. दरसअल उपन्यास में मंदिर जाने वाली हिंदू महिलाओं के चरित्र को लेकर उठाए सवाल उठाये गए थे. इसी आधार पर उपन्यास पर पाबंदी लगाने की याचिका दाखिल हुई थी.  कोर्ट ने कहा कि साहित्य पर पाबंदी लगाने की संस्कृति तब तक सही नहीं जब तक वो अश्लील न हो. कोर्ट ने मलयालम के दैनिक समाचार पत्र मातृभूमि से उन तीन एपिसोड काकथासार मांगा था. वहीं केंद्र और केरल सरकार ने इसका विरोध करते हुए कहा था कि अभिव्यक्ति की आजादी पर रोक नहीं लगाई जा सकती. वैसे उपन्यास बाजार में आ चुका है.  

आइंस्टीन के पत्र की 18,000 अमेरिकी डॉलर में हो सकती है नीलामी, जानें क्या है इस लेटर में


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement