NDTV Khabar

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई प्रमुख रंजीत सिन्हा को आरोपों का जवाब देने को कहा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। 2जी और कोल घोटाले के आरोपियों से मुलाकात को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सीबीआई डायरेक्टर पर लगे आरोप काफी गंभीर हैं, साथ ही कोर्ट ने कहा कि वह 2−जी मामले की निगरानी कर रहा है और अगर इसे पटरी से उतारने की कोशिश हुई तो सुप्रीम कोर्ट सख्त रवैया अपनाएगा। कोर्ट ने सीबीआई निदेशक से कहा, जो भी आप हमें बताना चाहते हैं, हमें साफ साफ बताएं।

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर से एक हफ्ते में जवाब मांगा है। प्रशांत भूषण का आरोप है कि सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा ने 2जी घोटाले के आरोपियों से कई बार मुलाकात की थी और उन्होंने रिलायंस के खिलाफ केस भी कमजोर किया है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई की उस याचिका पर भी सुनवाई होगी, जिसमें सीबीआई ने प्रशांत भूषण और कामिनी जायसवाल पर झूठे तथ्य पेश करने का आरोप लगाया है और केस दर्ज करने की मांग की है।

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक के घर में प्रवेश सूची का मूल रजिस्टर हासिल किया। अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने यह सीलबंद लिफाफे में सौंपा।

वहीं सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि वह भूषण से उस स्रोत के बारे में बताने को कहे. जिससे उन्हें ये सब दस्तावेज मिले।

सुप्रीम कोर्ट ने आईटीबीपी के 23 और सीबीआई के चार अधिकारियों के नाम भी रिकॉर्ड में लिए जो सीबीआई निदेशक के आवास के द्वार पर ड्यूटी पर थे। कोर्ट ने कहा कि यदि हम सीबीआई निदेशक के खिलाफ प्रकथनों में दम पाते हैं तो हम मामले के लंबित रहने के दौरान उनके द्वारा लिए गए सभी फैसलों को रद्द कर देंगे। इस मामले पर आगली सुनवाई 15 सितंबर को होगी।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट रंजीत सिन्हा की उस अपील को खारिज कर चुका है, जिसमें इस मामले की मीडिया रिपोर्टिंग रोकने की मांग की गई थी।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Delhi Election 2020: अरविंद केजरीवाल ने किया वादा, सरकार बनने पर इन 10 कामों की गारंटी

Advertisement