स्कूल के छात्र-छात्राओं को सिखाएं सोशल मीडिया के खतरों से बचाव के गुर

स्कूल के छात्र-छात्राओं को सिखाएं सोशल मीडिया के खतरों से बचाव के गुर

प्रतीकात्मक तस्वीर

देहरादून:

सोशल मीडिया के बढ़ते दुरुपयोग के सम्बन्ध में साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन, उत्तराखण्ड, देहरादून द्वारा अपने जागरूकता अभियान को बढ़ाते हुए  देहरादून में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं को सोशल मीडिया पर सतर्क रहने व उनके सम्भावित खतरों से बचने के तरीकों से अवगत कराया गया।

विभिन्न विद्यालयों में छात्रों/छात्राओं के मध्य जागरूकता कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है।

एसटीएफ की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुश्री पी रेणुका देवी ने बताया गया कि वर्तमान में छात्र-छात्राओ के मध्य सोशल मीडिया के बढ़ते दुरुपयोग की रोकथाम हेतु इस तरह के कार्यक्रमों की अवश्यकता है। विगत कुछ दिनों में ऐसे मामले प्रकाश में आए हैं, जिनमें स्कूल के छात्र/छात्राओं को सोशल मीडिया के दुरुपयोग में संलिप्त पाया गया है तथा ये सोशल मीडिया का शिकार हुए हैं।

स्कूलों द्वारा भी जागरूकता कार्यक्रम की सराहना की गई है तथा समय-समय पर अपने-अपने स्कूलों में ऐसे कार्यक्रमों को आयोजित करने की आवश्कता जाहिर की गई है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उक्त जागरूकता अभियान में छात्र-छात्राओं को साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन के अधिकारियों द्वारा सोशल मीडिया में आजकल चल रहे अपराधों के बारे में बारीकी से जानकारी दी गई तथा उनसे सावधान व निपटने के तौर तरीकों के बारे में बताया गया। छात्र-छात्राओं को सोशल मीडिया में अनजान लोगों से दोस्ती न करने, निजी जानकारी व फोटोग्राफ व अपना मोबाईल नम्बर शेयर न करने की सलाह दी गई। छात्र-छात्राओं को समझाया गया कि किस प्रकार से किसी की व्यक्तिक पहचान चुराकर सोशल मीडिया पर दुरुपयोग किया जा सकता है तथा बाद में समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

उक्त जागरूकता अभियान में उपनिरीक्षक वेद प्रकाश थपलियाल द्वारा छात्रा-छात्राओं को सोशल मीडिया में सजग रहने की जानकारी उपलब्ध कराई गई जिनके सहयोगी आरक्षी नितिनी रमोला भी शामिल थे।