NDTV Khabar

रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी 15 दिन में दो बार सुरक्षा कार्यस्थलों का दौरा करें

एसएजी कम से कम संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी होने चाहिए, जिन्होंने औसतन 23 साल का सेवा कार्य पूरा किया हो.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी 15 दिन में दो बार सुरक्षा कार्यस्थलों का दौरा करें

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों को अब 15 दिन में दो दिन उन स्थानों पर जाना होगा जहां सुरक्षा कार्य चल रहा है. इससे कार्य का बेहतर तरीके से क्रियान्वयन सुनिश्चित हो सकेगा. रेलवे बोर्ड ने पिछले महीने पत्र भेजकर सिविल इंजीनियरिंग विभाग के वरिष्ठ प्रशासनिक ग्रेड (एसएजी) को मनोनीत किया जाए और एक-एक प्रखंड आवंटित किया जाए. अपने-अपने आवंटित क्षेत्र में ये अधिकारी सुरक्षा से संबंधित कार्यों को देखेंगे. इनमें ट्रैक का नवीकरण, पुल का पुनर्वास, मानव रहित लेवल क्रॉसिंग को समाप्त करना, प्लेटफार्म बनाना और ट्रैक के रखरखाव से संबंधित अन्य कार्य शामिल हैं. पत्र में कहा गया है कि मनोनीत अधिकारियों को अपनी अपनी साइटों पर जाकर कार्यों की योजना के बारे में उचित निर्देशन देना होगा.

यह भी पढ़ें : राजधानी और शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन में खानपान में गड़बड़ी की 9804 शिकायतें मिलीं

पत्र में कहा गया है कि इन अधिकारियों को अपनी साइट पर कार्य की शुरुआत में कम से कम एक सप्ताह के लिए ठहरना होगा और बाद में उन्हें आवंटित साइट पर मार्च, 2018 तक पंद्रह दिन में कम से कम दो बार जाना होगा. एसएजी कम से कम संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी होने चाहिए, जिन्होंने औसतन 23 साल का सेवा कार्य पूरा किया हो.

टिप्पणियां
VIDEO : रेलवे को मिलेंगे आधुनिक सुविधाओं से लैस अनुभूति कोच​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement