NDTV Khabar

कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी, अब किसान प्रकोष्ठ के प्रमुख नाना पटोले समेत इन दिग्गज नेताओं ने दिया इस्तीफा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के समर्थन में शनिवार को भी पार्टी के कई दिग्गज नेताओं ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी, अब किसान प्रकोष्ठ के प्रमुख नाना पटोले समेत इन दिग्गज नेताओं ने दिया इस्तीफा

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के समर्थन में कांग्रेस नेताओं के इस्तीफे का दौर जारी है.

खास बातें

  1. हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी
  2. अब किसान प्रकोष्ठ के प्रमुख ने दिया इस्तीफा
  3. उत्तर प्रदेश के भी कई नेताओं ने अपना पद छोड़ा
नई दिल्ली :

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल जारी है. इस्तीफे पर अडिग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के समर्थन में शनिवार को भी पार्टी के कई दिग्गज नेताओं ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. जिसमें किसान कांग्रेस प्रकोष्ठ के प्रमुख नाना पटोले और पार्टी के राजस्थान प्रभारी सचिव तरुण कुमार शामिल हैं. उधर, उत्तर प्रदेश में भी राहुल गांधी के समर्थन में वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने इस्तीफों की झड़ी लगा दी. पूर्व कांग्रेस सांसद पटोले ने अपने पद से इस्तीफा देने के साथ ही राहुल गांधी के समर्थन में किसान कांग्रेस के सभी निकायों को भंग कर दिया. पटोले के अलावा पार्टी के राजस्थान प्रभारी सचिव तरुण कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने अपना इस्तीफा पार्टी प्रमुख को भेज दिया है. 

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद अब कांग्रेस में इस्तीफों का दौर, ये दिग्गज नेता अपने पद से हटे 


उत्तर प्रदेश में पार्टी के पदों से इस्तीफा देने वालों में शामिल हैं कांग्रेस विधायक दल की उपनेता आराधना मिश्रा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रणजीत सिंह जूदेव, उपाध्यक्ष आर.पी. त्रिपाठी, महासचिव सतीश अजमानी, श्याम किशोर शुक्ला और हनुमान त्रिपाठी, प्रवक्ता दुजेंद्र त्रिपाठी, वीरेंद्र मदान, बृजेंद्र सिंह और पंकज तिवारी. इन नेताओं ने राहुल के समर्थन में अपने पद से इस्तीफा दिया है, ताकि कांग्रेस संगठन को नया स्वरूप देने का रास्ता साफ हो. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद ही इस्तीफा दे दिया था. 

राहुल गांधी के अध्यक्ष बने रहने के सवाल पर बोले कांग्रेस के दिग्गज नेता, एक प्रतिशत भी संभावना...

टिप्पणियां

इससे पहले कांग्रेस ने शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी में 280 ब्लॉक कमेटियों को भंग कर दिया था. इतना ही नहीं, पार्टी अध्यक्ष के समर्थन में कई राज्यों के विभिन्न स्तरों के 140 से अधिक पार्टी नेताओं ने इस्तीफा दे दिया था. गुरुवार को कांग्रेस के विधि एवं आरटीआई प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विवेक तन्खा ने इस्तीफा देने के साथ राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  से अनुरोध किया था कि वह पार्टी को 'जुझारू बल' के रूप में पुनर्गठित करें. कांग्रेस ने सोमवार को उत्तर प्रदेश की सभी जिला कमेटियों को यह कहकर भंग कर दिया था कि तीन सदस्यीय अनुशासन समिति बनाई जाएगी, जो लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने वालों का पता लगाकर उन पर कार्रवाई करेगी. (इनपुट-IANS) 

अपने स्टैंड पर कायम हैं राहुल गांधी, कहा- 'अध्यक्ष पद पर नहीं लौटूंगा'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement