Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

शाहीन बाग मामला : विरोध प्रदर्शन में बच्चे क्यों लाए जा रहे? दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के डीएम को नोटिस

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने जारी किया नोटिस, दस दिन के अंदर जवाब देने के लिए कहा गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शाहीन बाग मामला : विरोध प्रदर्शन में बच्चे क्यों लाए जा रहे? दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के डीएम को नोटिस

शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन करती हुईं महिलाएं (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. आयोग ने कहा है कि बच्चों में गलतफहमी पैदा कर प्रोटेस्ट में लाया जा रहा
  2. बच्चों से कहा जा रहा, प्रधानमंत्री नागरिकता के दस्तावेज मांगेंगे
  3. दस्तावेज नहीं हुए तो उन्हें डिटेंशन सेंटर में रखा जाएगा
नई दिल्ली:

शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में चल रहे प्रदर्शन को लेकर राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग यानी कि नेशनल कमीशन फ़ॉर प्रॉटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट ( NCPCR) ने नोटिस जारी किया है. यह नोटिस दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के डीएम को भेजा गया है. नोटिस का जवाब 10 दिन के अंदर देने के लिए कहा गया है. आयोग ने शाहीन बाग के प्रोटेस्ट में बच्चों को शामिल करने को लेकर आपत्ति जताई है. आयोग ने कहा है कि बच्चों में गलतफहमी पैदा कर उन्हें प्रोटेस्ट में शामिल करने के लिए लाया जा रहा है. उन्हें मेंटल ट्रामा हो सकता है.

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने कहा है कि ऐसे बच्चों की पहचान करके प्रशासन उनकी काउंसिलिंग कराए. एक शिकायत मिलने के बाद एनसीपीसीआर ने यह नोटिस जारी किया है. शिकायत में कहा गया है कि बच्चों के घर वाले उन्हें यह बताकर प्रोटेस्ट में ला रहे हैं कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री उनकी नागरिकता के दस्तावेज मांगेंगे. दस्तावेज नहीं हुए तो उन्हें डिटेंशन सेंटर में रखा जाएगा और उन्हें कपड़े और खाना भी नहीं मिलेगा.

आयोग ने नोटिस में कहा कि डीएम वहां के चाइल्ड प्रोटेक्शन ऑफिसर और पुलिस चाइल्ड वेलफेयर ऑफिसर को जरूरी दिशानिर्देश जारी करें और बच्चों की पहचान कर उनके घरवालों की भी कॉउंसलिंग कराएं. जरूरी हो तो बच्चे को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सामने पेश किया जाए.


शाहीन बाग में स्कूल बसें निकलेंगी कैसे? सड़क पर तो वाहनों की अवैध पार्किंग

टिप्पणियां

VIDEO : शाहीन बाग में सड़क पर खुली लाइब्रेरी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... जन्म के बाद डॉक्टर ने मारा तो गुस्से से देखने लगी बच्ची, सोशल मीडिया पर हुई Memes की बरसात

Advertisement