NDTV Khabar

जब सत्ता में थे तो भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे, लेकिन बीते चार सालों में क्या हुआ : शरद पवार

बीती 12 अक्टूबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे को लेकर विचार विमर्श किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब सत्ता में थे तो भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे, लेकिन बीते चार सालों में क्या हुआ : शरद पवार

(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि जब वह सत्ता में थे तो उन पर और उनकी पार्टी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे. लेकिन अब वे (बीजेपी) चार सालों से सत्ता में हैं और इन आरोपों पर कुछ नहीं हुआ. ये सभी आरोप सिर्फ सत्ता पाने के लिए लगाए गए थे. न्यूज चैनल आज तक के मंथन कार्यक्रम में शरद पवार ने यह भी दावा किया 2019 के लोकसभा चुनाव में एक बड़ा परिवर्तन होगा और मोदी दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे. गौरतलब है कि एनसीपी, यूपीए सरकार में शामिल थी और इसके नेता प्रफुल पटेल महत्वपूर्ण विभाग में मंत्री थे. इस दौरान उनके ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगा. वहीं शरद पवार पर भी लवासा जमीन मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया गया. इन दोनों ही मामलों को बीजेपी ने विपक्ष में रहते खूब जोर-शोर से उठाया था. फिलहाल इस बार भी शरद पवार कांग्रेस के साथ ही मिलकर चुनाव लड़ने को तैयार हैं. हालांकि उनको भी पीएम पद का एक बड़ा दावेदार बताया जा रहा है.

टिप्पणियां

2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे NCP प्रमुख शरद पवार


बीती 12 अक्टूबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे को लेकर विचार विमर्श किया है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच यह विचार विमर्श बृहस्पतिवार को दिल्ली में हुआ. इस बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे एवं अशोक गहलोत तथा राकांपा के प्रफुल्ल पटेल भी मौजूद थे.    
राजनीति की नई राह खोजते तारीक अनवर​

मलिक के अनुसार राकांपा ने राज्य में 50:50 सीट बंटवारे का प्रस्ताव रखा है. उन्होंने कहा कि दोनों दल इस मुद्दे पर यथाशीघ्र अंतिम निर्णय करना चाहते हैं.  कांग्रेस ने 2014 लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में 26 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जिसमें दो की ही चुनावी नैया पार हो पायी थी. राकांपा ने 22 सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े किए थे जिनमें से चार को ही विजय मिल पाई थी. महाराष्ट्र में 48 लोकसभा सीटें हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement