प्रधानमंत्री के वीडियो मैसेज पर शशि थरूर बोले- अभी प्रधान Showman को सुना, ये बस PM का 'फील गुड' मूमेंट था

शशि थरूर ने ट्वीट किया है कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में लोगों के दर्द, उनके बोध और उनकी वित्तीय चिंताओं के बारे में कुछ नहीं कहा. यह बस पीएम मोदी का फील 'गुड मूमेंट' था.

प्रधानमंत्री के वीडियो मैसेज पर शशि थरूर बोले- अभी प्रधान Showman को सुना, ये बस PM का 'फील गुड' मूमेंट था

शशि थरूर ने पीएम मोदी के संबोधन पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • PM ने वीडियो मैसेज के जरिए किया संबोधित
  • पीएम मोदी ने देश की जनता से मांगे 9 मिनट
  • शशि थरूर ने पीएम मोदी के संबोधन पर कसा तंज
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में देश की सामूहिक शक्ति के महत्व को रेखांकित करते हुए रविवार 5 अप्रैल की रात 9 बजे देशवासियों से अपने घरों की बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने की अपील की है. जिसके बाद कांग्रेस की ओर से पहली प्रतिक्रिया उनके सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने दी है. थरूर ने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में लोगों के दर्द, उनके बोध और उनकी वित्तीय चिंताओं के बारे में कुछ नहीं कहा. यह बस पीएम मोदी का फील 'गुड मूमेंट' था.

शशि थरूर ने पीएम मोदी के संबोधन के बाद ट्वीट किया, 'अभी प्रधान शोमैन की बातें सुनीं. लोगों के दर्द, उनके बोध, उनकी वित्तीय चिंताओं को दूर करने के बारे में कुछ नहीं कहा गया. भविष्य को लेकर कोई दृष्टि नहीं, या उन मुद्दों पर कोई बात नहीं, जिनके बारे में लॉकडाउन के बाद के माहौल में बात करने का उनका इरादा हो. बस, भारत के फोटो-ऑप प्रधानमंत्री द्वारा तैयार किया गया फील-गुड मूमेंट था यह.'

कोरोना संकट के बीच ADB का अनुमान : भारत की आर्थिक विकास दर घटकर रह सकती है चार फीसदी

प्रधानमंत्री मोदी ने आज (शुक्रवार) अपने वीडियो संदेश में कहा, ‘‘हमें कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 130 करोड़ देशवासियों के महासंकल्प को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है. इसलिए 5 अप्रैल, रविवार को रात 9 बजे मैं आप सबके 9 मिनट चाहता हूं. आप घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं.'' उन्होंने कहा कि इस रविवार हम सबको मिलकर, कोविड-19 के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसका प्रकाश की ताकत से परिचय कराना है. हमें 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है. मोदी ने लोगों से सामाजिक दूरी को बनाए रखने की अपील भी की.

कोरोना ने हमारी विचाराधारा,आस्था और परंपरा पर हमला बोला है, 5 अप्रैल को महाशक्ति का जागरण करना है. : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, ‘‘मेरी एक और प्रार्थना है कि इस आयोजन के समय किसी को भी, कहीं पर भी इकट्ठा नहीं होना है. रास्तों में, गलियों या मोहल्लों में नहीं जाना है, अपने घर के दरवाजे, बालकनी से ही इसे करना है.'' मोदी ने कहा कि हमें सामाजिक दूरी बनाए रखने की लक्ष्मण रेखा को कभी भी लांघना नहीं है. इसे किसी भी हालत में तोड़ना नहीं है. कोरोना वायरस संक्रमण की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है.

VIDEO: जो कोरोना को पराजित कर चुके हैं आज हमें उनसे प्रेरणा लेनी है : PM मोदी

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com