NDTV Khabar

शशि थरूर को मिली राहत, IPL मामले में ED नहीं करेगी जांच

सुनंदा पुष्कर हत्‍या मामले में आरोपी बनाए जाने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर को बडी राहत मिली है. प्रवर्तन निदेशालय अब आईपीएल मामले की जांच नही करेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शशि थरूर को मिली राहत, IPL मामले में ED नहीं करेगी जांच

कांग्रेस नेता शशि थरूर की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

सुनंदा पुष्कर हत्‍या मामले में आरोपी बनाए जाने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर को बडी राहत मिली है. प्रवर्तन निदेशालय अब आईपीएल मामले की जांच नही करेगा. दिल्ली पुलिस ने ईडी से थरूर के खिलाफ आईपीएल मामले की जांच करने को कहा था. दिल्ली पुलिस का कहना था कि आईपीएल ऐंगल से जांच करने पर नए तथ्य सामने आ सकते हैं, लेकिन दिल्ली पुलिस ने जिन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है वो ईडी के जांच दायरे में नहीं आते. लिहाजा ईडी जांच नही करेगा. दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 306 और 498 (ए) के तहत आरोप-पत्र दायर किया है. दोनों धाराएं ईडी के दायरे से बाहर है. 

सुनंदा पुष्‍कर हत्‍याकांड : जानिए आरोपी साबित होने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने क्या कहा...

क्‍या है मामला 
एसआईटी की जांच में कोच्चि टीम को खरीदने से पहले कई दांव-पेंच खेले गए थे. जांच में ये भी पता चला था कि सुनंदा पुष्‍कर को शेयर किसी पैसे के बदले नहीं दिए गए थे, बल्कि उनका शेयर स्वेट शेयर की श्रेणी में आता है. स्वेट यानी किसी व्यक्ति की मेहनत के बदले कंपनी में मिलने वाला शेयर. पुलिस जांच कर रही थी कि सुनंदा ने ऐसा क्या किया था कि उसे आईपीएल कंपनी में 70 करोड़ रुपये का शेयर दिया गया.


सुनंदा पुष्‍कर हत्‍याकांड: शशि थरूर पर चलेगा मुकदमा, 7 जुलाई को बतौर आरोपी कोर्ट में होंगे पेश

यही नहीं, इस कंपनी की बोली लगने के समय भी धांधली हुई थी. पुलिस की जांच में ये सामने आया था कि मंत्री रहते समय थरूर ने कंपनी की बोली के समय कुछ ऐसे काम किए थे, जिससे कोच्चि टीम को खरीदने में आसानी हुई. हालांकि लोकसभा में थरूर ने कहा था कि उन्होंने ऐसा कोई काम नहीं किया.

'मैं मरना चाहती हूं', मौत से पहले सुनंदा पुष्‍कर ने शशि थरूर को किया था ई-मेल

टिप्पणियां

इस मामले में गुजरात के एक हीरा कारोबारी की शुरुआत की हुई कंपनी में कई ऐसे लोग थे, जिनके पास पैसे तो नहीं थे, मगर उन्हें शेयर के रूप में हिस्से मिले थे. आईपीएल में सबसे महंगी टीम कोचि टस्कर 700 करोड़ में खरीदी गई थी, लेकिन इस कंपनी में कौन-कौन लोग हैं, ये नहीं बताया गया था. पुलिस को शक था कि सुनंदा को शेयर इसलिए मिला, क्योंकि थरूर ने कंपनी की खरीद-बिक्री में अहम भूमिका अदा की थी.


VIDEO: सुनंदा पुष्कर हत्‍या मामले में शशि थरूर पर चलेगा केस  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement