NDTV Khabar

नवजोत सिंह के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने की तारीफ लेकिन निर्णय से हैं अचंभित

नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री द्वारा स्थानीय प्रशासन और सांस्कृतिक मामलों के अपने विभाग बदले जाने के चार दिन बाद का यह इस्तीफा राहुल को भेजा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नवजोत सिंह के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने की तारीफ लेकिन निर्णय से हैं अचंभित

नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को ट्विटर पर अपना इस्तीफा डाला था.

खास बातें

  1. विभाग बदलने से नाखुश थे नवजोत सिंह सिद्धू
  2. पंजाब के कई मंत्रियों ने सिद्धू के इस्तीफे को बताया नाटक
  3. इस्तीफे पर पड़ी है 10 जून की तारीख
नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद रविवार को उनकी पार्टी के ही सहयोगी शत्रुघ्न सिन्हा ने उनकी तारीफ की है.  हालांकि उन्होंने कहा कि वे सिद्धू के इस्तीफे के फैसले से अचंभित हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट करते हुए लिखा, ''पंजाब कैबिनेट और मंत्रालय से नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बारे में जानकर अचंभित हूं.''  उन्होंने कहा,  "वह एक बेहद प्रतिभाशाली और लोकप्रिय खिलाड़ी / राजनीतिज्ञ रहे हैं. इन सबसे बढ़कर वह एक अद्भुत इंसान और हमेशा हाजिर रहने वाले व्यक्ति हैं,  जो मेरे अच्छे दोस्त भी हैं."

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा,  ''हालांकि हम उनके निर्णय पर सवाल नहीं उठा सकते हैं, लेकिन निश्चित रूप से इस दुर्भाग्यपूर्ण कदम को हल करने की दिशा में जल्द ही उपाय की उम्मीद करेंगे और प्रार्थना करेंगे .... जय हिंद!''


दूसरी ओर पंजाब के कुछ मंत्रियों ने नवजोत सिंह सिद्धू के मंत्री पद से इस्तीफा देने पर निशाना साधते हुए इसे नाटकबाजी करार दिया है. उन्होंने सिद्धू से अपने कार्यों में अधिक शालीनता दिखाने का आग्रह किया. विपक्षी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने भी सिद्धू के इस्तीफे को नाटक करार दिया जबकि शिअद की सहयोगी भाजपा ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंन्दर सिंह से तुरंत सिद्धू को बर्खास्त करने की मांग की.


बीजेपी नेता ने नवजोत सिंह सिद्धू को बताया 'सरकारी खजाने पर बोझ', राज्यपाल से कहा- बिना काम के ले रहे हैं सैलरी

सिद्धू ने रविवार को ट्विटर पर अपना त्यागपत्र पोस्ट करते हुए उसमें राहुल गांधी समेत कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को टैग किया था. सिद्धू ने मुख्यमंत्री द्वारा स्थानीय प्रशासन और सांस्कृतिक मामलों के अपने विभाग बदले जाने के चार दिन बाद का यह पत्र राहुल को भेजा है. इसपर 10 जून की तारीख पड़ी हुई है. 

नहीं थम रही पंजाब कांग्रेस में रार, मंत्रालय बदले जाने के एक महीने बाद भी सिद्धू ने नहीं संभाला प्रभार

टिप्पणियां

पंजाब के मंत्रियों ब्रह्म मोहिन्द्रा और चरणजीत चन्नी ने यहां जारी संयुक्त बयान में चुटकी ली कि क्या सिद्धू इतने मूर्ख हैं कि उन्हें ये तक नहीं पता कि मंत्री पद पार्टी का पद नहीं है और कांग्रेस अध्यक्ष उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं कर सकते. राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके हैं, हालांकि कांग्रेस अब भी उन्हें अपना अध्यक्ष मानती है. हालांकि सिद्धू ने बाद में ट्वीट किया, "पंजाब के मुख्यमंत्री को अपना इस्तीफा भेजूंगा." मंत्रियों ने कहा, "यह कुछ और नहीं बल्कि 'नाटकबाजी के शहंशाह' का नाटक है. अगर उन्हें इस्तीफा देना ही था तो प्रोटोकॉल का अनुसरण कर इसे सीधे मुख्यमंत्री को भेजना था." वहीं शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर बादल ने कहा कि वह नहीं समझ पा रहे हैं कि सिद्धू ने राहुल गांधी को इस्तीफा क्यों भेजा. उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम को नाटक करार दिया. भाजपा नेता तरुण चुग ने कहा कि अगर उन्हें इस्तीफा देना ही था तो राज्यपाल अथवा मुख्यमंत्री को भी दे सकते थे. 

वीडियो: पंजाब मंत्रिमंडल से नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया इस्तीफा



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement