NDTV Khabar

सपा के मंच पर अखिलेश के साथ दिखे BJP के 'शत्रु' शत्रुघ्न और यशवंत सिन्हा, कहा- 'जुमलेबाजी नहीं चलेगी' 

सपा मुख्यालय में आयोजित जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि 'सत्ता सेवा का माध्यम है, मेवा का नहीं, अगर सच बोलना बगावत है तो मैं बागी हूं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सपा के मंच पर अखिलेश के साथ दिखे BJP के 'शत्रु' शत्रुघ्न और यशवंत सिन्हा, कहा- 'जुमलेबाजी नहीं चलेगी' 

जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा, यशवंत सिन्हा और अखिलेश यादव.

खास बातें

  1. शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा ने मोदी सरकार पर बोला हमला
  2. जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम में पहुंचे थे दोनों नेता
  3. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि 'सत्ता सेवा का माध्यम है, मेवा का नहीं'
लखनऊ: बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. शत्रुघ्न सिन्हा ने राफेल डील पर कहा कि केंद्र सरकार को जवाब देना होगा, तो वहीं, यशवंत सिन्हा ने कहा कि मौजूदा वक्त में देश के हालात इमरजेंसी से भी बदतर हैं. समाजवादी पार्टी (सपा) मुख्यालय में आयोजित जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि 'सत्ता सेवा का माध्यम है, मेवा का नहीं, अगर सच बोलना बगावत है तो मैं बागी हूं.' शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, 'जुमलेबाजी और खोखला वायदा नहीं चलेगा. नोटबंदी का फैसला पार्टी का नहीं था, क्या इस बारे में पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी से पूछा गया था? क्या इस बारे में एमएम जोशी, अरुण शौरी, और यशवंत सिन्हा को कुछ भी मालूम था? अचानक नोटबंदी लागू कर दी गई और गरीबों के बारे में कुछ नहीं सोचा गया, नोटबंदी के बाद जीएसटी लागू कर व्यापारियों की कमर तोड़ दी गई. जीएसटी, पूजा के सामान, प्रसाद और लंगर पर भी लागू कर दी गई, लेकिन पेट्रोल डीजल को इससे दूर रखा गया.'
 
शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि देश राफेल डील के बारे में जवाब चाहता है. जनता राफेल डील के बारे में जानना चाहती है. आखिर एक वर्ष पुरानी कंपनी एचएल को क्यों हटाया गया और एक ऐसी कंपनी को यह सौदा क्यों दिया गया जो कि इसके बारे में जानती भी नहीं है. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले यशवंत सिन्हा से पूछा गया था कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार और वर्तमान की नरेंद्र मोदी सरकार के बीच तुलना करने को कहा गया था तो उन्होंने कहा था कि अटल सरकार में लोकतंत्र था और आज तानाशाही है. आज मैं कहता हूं कि 'वन मैन शो' है और दो आदमियों की सेना है. इस समय तो न ईमानदारी है और न ही पारदर्शिता.

यह भी पढ़ें : BJP के 'शत्रु' ने नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ फिर खोला मोर्चा, राफेल मुद्दे पर मांगे इन सवालों के जवाब...

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि जय प्रकाश नारायण को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करने लखनऊ आया हूं और उन्हीं से प्रभावित होकर राजनीति शुरू की है. अखिलेश यादव देश की राजनीति का उभरता हुआ सितारा है और आज उत्तर प्रदेश के सबसे मजबूत और मशहूर नेता हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि अखिलेश यादव के साथ मिलकर भविष्य की राजनीति पर चर्चा भी करेंगे. उन्होंने कहा कि जयप्रकाश नारायण को मानने वालों में हम सब हैं, मैं हर दल का प्रिय हूं. सभी लोग मुझे मानते हैं. अखिलेश मुझे मौका दें या मैं अखिलेश को मौका दूं बात एक ही है. हम सब एक परिवार की तरह हैं. 

VIDEO : राफेल पर देश को जवाब दे सरकार: शत्रुघ्न सिन्हा


टिप्पणियां
सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मंच पर मौजूद यशवंत सिन्हा ने कहा, 'देश में मौजूदा हालात इमरजेंसी से भी बदतर हैं, सभी को एकजुट होकर लड़ना पड़ेगा. शत्रुघ्न और मैं देश भर में घूम कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं, देश में लोकतंत्र खतरे में है अगर हम चेते नहीं तो देश का बहुत नुकसान होगा. देश में लोकतांत्रिक संस्थाएं खतरे में हैं, अगर हम एकजुट होकर लड़ें तो जीत हमारी होगी.' 

(इनपुट : भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement