Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

शत्रुघ्न सिन्हा का BJP पर साधा निशाना, कहा - इनके ट्रोल तो गांधी और जेपी के साथ भी...

शत्रुघ्न सिन्हा ने यहां संवाददाताओं से भाजपा का नाम लिए बिना आलोचना करते हुए कहा कि जिस समय देश में रोजगार की कमी महसूस की जा रही है तब रोजगार केवल भाजपा के वार रूम में मिल सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शत्रुघ्न सिन्हा का BJP पर साधा निशाना, कहा - इनके ट्रोल तो गांधी और जेपी के साथ भी...

शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी पर साधा निशाना

नई दिल्ली:

अभिनेता और कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बुधवार को कहा कि अगर महात्मा गांधी और जयप्रकाश नारायण जैसे महान नेता आज होते तो पता नहीं भाजपा के ट्रोल उनके साथ क्या करते. उन्होंने यह भी कहा कि देशहित में सच्चाई का साथ देने वाले किसी को भी निशाना बनाना ट्रोल्स के लिए कोई बड़ी बात नहीं बल्कि बिजनेस है. पूर्व भाजपा नेता की टिप्पणी दीपिका पादुकोण के जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के दौरे के बाद सोशल मीडिया में हुई उनकी ट्रोलिंग के बाद आई है. सिन्हा ने यहां संवाददाताओं से भाजपा का नाम लिए बिना आलोचना करते हुए कहा कि जिस समय देश में रोजगार की कमी महसूस की जा रही है तब रोजगार केवल भाजपा के वार रूम में मिल सकता है.

प्रियंका गांधी के साथ यूपी पुलिस ने की 'धक्का-मुक्की', तो शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी पर यूं साधा निशाना...


उन्होंने कहा कि सौभाग्य से गांधी जी और जयप्रकाश नारायण हमारे बीच नहीं हैं. पता नहीं ट्रोल्स ने उनके साथ क्या किया होता. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा का वार रूम और और उसके ट्रोल सच के साथ और देशहित में खड़े होने वालों को राष्ट्र विरोधी के रूप में देखते हैं. उन्होंने कहा कि ट्रोल खुद राष्ट्र विरोधी चीजें करते हैं लेकिन दूसरों को राष्ट्र विरोधी बताते हैं. उनके लिए न तो यह बड़ी चीज है, न बुरी. वे अपने बिजनेस के लिए यह सब करते हैं.

शत्रुघ्न सिन्हा ने PM Modi पर साधा निशाना, ट्वीट कर बोले- सर, फिर ना कहना होशियार नहीं किया...

इससे पहले नागरिकता कानून और NRC के खिलाफ कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा और बीजेपी के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया से  9 जनवरी को मार्च निकालने का ऐलान किया था. उन्होंने बताया था कि यह मार्च मुंबई से शुरू होकर कई राज्यों से होते हुए दिल्ली में खत्म होगी. इस मार्च का नाम गांधी शांति मार्च दिया गया है.प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि एनआरसी की वजह से हम फिलहाल संकट से गुजर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इसे लेकर पीएम कुछ और कह रहे हैं जबकि उनके गृहमंत्री कुछ और. उन्होंने कहा कि यह बिल जो जबर्दस्ती और जुल्म की वजह से पास हुआ है.इसलिए यशवंत सिन्हा ने कहा कि उसे संसद में ही खत्म करना होगा. उन्होंने कहा कि फिलहाल यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है इसलिए हमें अभी उम्मीद है कि इसे लागू नहीं हुआ दिया जाएगा. वहीं, यशवंत सिन्हाने कहा कि बीजेपी को भले ही इस बार 303 सीटें मिली हैं लेकिन किसी को भी यह नहीं मालूम था कि 303 सीटने के बाद भी देश में राइफल की सरकार बन जाएगी. 

कश्‍मीर मसले पर OIC में बात करने के लिए पाकिस्‍तान और सउदी अरब में कोई डील नहीं हुई : विदेश मंत्रालय

शत्रुघ्न सिन्हा ने यहां पत्रकारों से कहा कि 'गांधी शांति यात्रा' के दौरान सरकार से यह मांग भी की जाएगी कि वह संसद में घोषणा करें कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) नहीं कराई जाएगी. यात्रा महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हरियाणा से होकर 30 जनवरी को दिल्ली के राजघाट पर समाप्त होगी.

टिप्पणियां

सीएए के विरोध में पुणे में हुआ प्रदर्शन, विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग

इस दौरान तीन हजार किलोमीटर का सफर तय किया जाएगा. सिन्हा ने कहा कि राकांपा प्रमुख शरद पवार दक्षिणी मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया से यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे. यात्रा में किसान संगठनों समेत विभिन्न संगठन हिस्सा लेंगे. संवाददाता सम्मेलन में सिन्हा के साथ महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और विदर्भ से कांग्रेस नेता आशीष देशमुख मौजूद थे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Delhi Violence: घायल एसीपी की आपबीती, क्या हुआ था उस दिन जब हिंसक भीड़ ने घेरा...

Advertisement