शीना बोरा हत्याकांड : वकील का पुलिस पर आरोप, इन्द्राणी से नहीं मिलने दिया

शीना बोरा हत्याकांड : वकील का पुलिस पर आरोप, इन्द्राणी से नहीं मिलने दिया

मुंबई:

शीना बोरा हत्याकांड में रायगढ़ के जांच अधिकारी कल एनडीटीवी से कही गई बात से मुकर गए। कल जहां उन्होंने दुर्घटना में मौत की रिपोर्ट फाइल करने की बात कही थी वहीं आज उन्होंने कहा कि तीन साल पहले की घटना होने से उन्हें याद नहीं। मुंबई पुलिस अब इस मामले की भी तहकीकात करेगी। इन्द्राणी के वकील ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि उन्हें इन्द्राणी से मिलने नहीं दिया गया।

रायगढ़ में केस के इन्वेस्टीगेशन ऑफिसर का कहना है कि जब लाश मिली तो 95 से 98 प्रतिशत जल गई थी। पता चलना मुश्किल था कि लाश पुरुष की है या महिला की। लाश के पास से ऐसा कोई सबूत नहीं मिला, जिससे लाश की शिनाख्त हो सके। ऑफिसर ने कल एनडीटीवी से दावे के साथ कहा कि उन्होंने एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्ट फाइल की थी। आज उनका कहना है कि चूंकि केस तीन साल पुराना है, इसलिए उन्हें ठीक से याद नहीं कि एडीआर फाइल की थी या नहीं।

मुम्बई पुलिस का कहना है कि वह इस बात की तहकीकात करेगी कि एडीआर फाइल हुई या नहीं और अगर नहीं हुई तो क्यों ? इन्द्राणी के वकील ने कोर्ट में एप्लीकेशन फाइल करके आरोप लगाया है कि पुलिस ने उसे इन्द्राणी से मिलने नहीं दिया। वकील देखना चाह रहे थे कि इन्द्राणी ठीक है या नहीं, उसे टार्चर तो नहीं किया जा रहा। उसे कपड़े वगैरह जैसी जरूरी चीजें देने की भी अनुमति पुलिस ने नहीं दी। कल कोर्ट का आर्डर आएगा। उधर दूसरी ओर पुलिस को इन्द्राणी के दूसरे पति संजीव खन्ना की 1 सितम्बर तक के लिए ट्रांजिट रिमांड मिल गई।

परिवार को ही नहीं मालूम बहन या बेटी?
मुखर्जी परिवार के एक शख्स ने एनडीटीवी से अपनी पहचान गुप्त रखने की शर्त पर कहा कि 'मुझे पता था कि राहुल और शीना साथ रह रहे थे पर मैं यह नहीं जानती थी कि शीना इन्द्राणी की बहन नहीं बेटी थी। हमें हमेशा यही बताया गया कि दोनों बहनें हैं। हमारे पास शक करने की कोई वजह नहीं थी। मैं सदमे में हूं यकीन नहीं आता कि यह कैसे हुआ। इन्द्राणी पिछले 3 साल से यही बता रही थी कि शीना अमेरिका में थी।'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पिता के साथ अपना नाम जोड़ना चाहती थी शीना
शीना के सेंट जेवियर्स के दोस्तों का कहना है कि शीना एक बेहद जिंदादिल लड़की थी। वह एक बेहद सुलझी हुई लड़की लगती थी। वह हर मुद्दे पर बात भी करती थी, लेकिन अपने परिवार के बारे में उसने सबको सिर्फ यही बताया था कि वह मुम्बई में अपनी बहन के साथ रहती है और उसके माता-पिता गुवाहाटी में रहते हैं। शीना जेवियर्स के मल्हार उत्सव में भी भाग लेती थी ।

शीना के स्कूल के दोस्तों का कहना है कि उसे सिंगिंग और डांसिंग का बहुत शौक था। वह बहुत अच्छी ड्राइंग भी करती थी। वह अपने पिता सिद्धार्थ दास के काफी करीब थी। स्कूल में शीना सबको यह कहती थी उसकी मां विदेश में है। साथ ही यह भी कहती थी कि उसकी मां बहुत सुन्दर है। स्कूल में परेंट्स मीटिंग शीना के नाना-नानी ही अटेंड करते थे। शीना अपने नाम में अपने पिता का नाम चाहती थी। उसे अपना नाम शीना बोरा से शीना दास बोरा करना था।