इंद्राणी, संजीव और ड्राइवर की पुलिस रिमांड 5 सितंबर तक बढ़ी, कोर्ट में रो पड़ी बेटी

इंद्राणी, संजीव और ड्राइवर की पुलिस रिमांड 5 सितंबर तक बढ़ी, कोर्ट में रो पड़ी बेटी

इंद्राणी मुखर्जी (फाइल फोटो)

मुंबई:

शीना बोरा हत्याकांड में मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी समेत संजीव खन्ना और ड्राइवर श्यामवर राय को 5 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। बांद्रा कोर्ट में मामले की सुनवाई हुई, जहां क़रीब 45 मिनट बहस चली।

मामले की सुनवाई के दौरान इंद्राणी के वकीलों ने पुलिस पर जांच कम कहानी ज्यादा गढ़ने का आरोप लगाया। पुलिस का कहना है कि कुछ और चीजें, जिनका हत्या में इस्तेमाल हुआ उनका मिलना बाक़ी है। इंद्राणी और बाक़ी दोनों आरोपियों पर मिखाइल की हत्या की कोशिश की और ज़हर देने का भी मामला दर्ज किया गया है।

सुनवाई के वक्त संजीव खन्ना और इंद्राणी की बेटी विधि भी कोर्ट में मौजूद थी, एक पल ऐसा भी आया जब इंद्राणी गिर गई। ये देख विधि अदालत में रो पड़ी। विधि को अपनी मां से मिलने दिया गया।

जांच में एक और अहम जानकारी मिली है कि इंद्राणी ने एक व्यक्ति को ढाई लाख रुपये दिए थे। पुलिस अब इस जांच में लगी है कि ये व्यक्ति सुपारी किलर तो नहीं है।

शीना के भाई मिखाइल ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया था कि इंद्राणी उसे मारने की दो बार कोशिश कर चुकी है। 24 अप्रैल 2012 को शीना की हत्या की गई थी। इसके बाद उसके शव को सूटकेश में भरकर रायगढ़ के जंगल में जलाने की कोशिश की गई थी। विधि को पीटर मुखर्जी ने गोद लिया है।

इंद्राणी के वकील ने कोर्ट में कहा कि इंद्राणी मुखर्जी से रोज 18-19 घंटे और पांच दिन में 80-90 घंटे पूछताछ की गई, लेकिन उन्हें एक मिनट के लिए भी कानूनी सलाह नहीं लेने दी गई।

इससे पहले कल तीनों आरोपियों को रायगढ़ ले जाया गया था जहां से शीना के शव का अवशेष मिला था। पुलिस की कोशिश क्राइम सीन को री कंस्ट्रक्ट करने की थी। अब तक की पूछताछ में इंद्राणी शीना के क़त्ल से इनकार कर रही है और इल्ज़ाम संजीव खन्ना के सिर मढ़ रही है। वहीं, संजीव खन्ना का कहना है कि इंद्राणी ने ही उसे मर्डर में घसीटा है। पुलिस की एक टीम आज असम के सिलचर जाएगी, जहां इंद्राणी के पहले पति सिद्धार्थ दास का पता लगाएगी।

पुलिस कह रही है कि उसके पास काफी सबूत है और वह हत्या की पूरी साजिश का जल्द पता भी लगा लेगी। लिहाजा, पुलिस इस बिनाह पर जांच को आगे बढ़ाने के लिए अदालत से आरोपियों की रिमांड अवधि बढ़ाने की मांग भी कर सकती है।

उधर, सूत्रों का कहना है कि इंद्राणी मुजर्खी जांच के दौरान अपने बयान बदल रही है और अपराध के लिए अपने पूर्व पति संजीव खन्ना को जिम्मेदार ठहरा रही हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बीच पुलिस की रिमांड कॉपी में दावा किया गया है कि इंदाणा और संजीव ने साजिश की बातचीत की बातचीत के लिए स्काईप का इस्तेमाल किया था।

पुलिस ने इंद्राणी के पति पीटर मुखर्जी के घर के गैराज से वह सूटकेस भी बरामद किया है, जो मिखाइल को मारकर उसकी लाश ठिकाने लगाने कि लिये लाया गया था। पुलिस के मुताबिक इंद्राणी ने उस दौरान दो सूटकेस खरीदे थे। एक शीना के लिए दूसरा मिखाईल के लिए।