Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

शीला दीक्षित का राहुल गांधी को यह था आखिरी संदेश, हार-जीत तो पार्टी का हिस्सा, लड़ाई जारी रखो

पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने बीते 18 जून को उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखकर क्षेत्र में बढ़ते अपराध को लेकर चिंता व्यक्त की थी. दीक्षित का पत्र मुखर्जी नगर इलाके में पुलिस कर्मियों द्वारा कथित रूप से एक टेम्पो चालक की पिटाई के मद्देनजर था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शीला दीक्षित का राहुल गांधी को यह था आखिरी संदेश, हार-जीत तो पार्टी का हिस्सा, लड़ाई जारी रखो

शीला दीक्षित का निगम बोध घाट में पूरे राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 81 साल की उम्र में शीला दीक्षित का निधन
  2. तीन बार रहीं दिल्ली की मुख्यमंत्री
  3. आज होगा अंतिम संस्कार
नई दिल्ली:

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित  का 81 साल की उम्र में निधन हो गया है. वह काफी समय से बीमार थीं और अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. उनके न रहने की अचानक आई खबर पर किसी को विश्वास नहीं हो रहा है क्योंकि राजनीति लेकर उनके बयान लगातार आते रहे हैं और कभी किसी को लगा ही नहीं कि वह इतनी ज्यादा बीमार हैं. 81 साल की उम्र में भी वह सक्रिय थीं और कांग्रेस और दिल्ली को लेकर उनके मन में चिंता थी. लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद जब राहुल गांधी ने निराश होकर खुद को घर में कैद कर लिया था तो शीला दीक्षित ने उनसे मिलने गई थीं लेकिन राहुल उस समय पार्टी के किसी भी नेता से नहीं मिलना चाहते थे. तब शीला दीक्षित ने उनके पास अपना संदेश भिजवाया. उन्होंने कहा, मैंने उन्हें अपना संदेश दिया है कि उनको अध्यक्ष पद से इस्तीफा नहीं देना चाहिए. हम चाहते हैं कि वह इस पद पर बने रहें नहीं तो यह हमारे लिए कष्टकारी होगा. इससे पहले शीला दीक्षित ने यह भी कहा कि पार्टी को राहुल गांधी का इस्तीफा स्वीकार नहीं करना चाहिए. हार-जीत तो पार्टी का हिस्सा होती है लेकिन अहम यह है लड़ाई जारी रखो. हम हारे हैं और इसकी समीक्षा कर रहे हैं. हमें गलतियों का तोड़ निकालेंगे. हम इंदिरा गांधी के समय भी हारे थे. 

बीते 18 जून को उपराज्य को लिखा था पत्र
पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने बीते 18 जून को उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखकर क्षेत्र में बढ़ते अपराध को लेकर चिंता व्यक्त की थी. दीक्षित का पत्र मुखर्जी नगर इलाके में पुलिस कर्मियों द्वारा कथित रूप से एक टेम्पो चालक की पिटाई के मद्देनजर था.  पत्र में पूर्व मुख्यमंत्री ने बैजल का ध्यान दिल्ली में अपराध की बढ़ती घटनाओं की ओर खींचा और दिल्ली पुलिस को इन घटनाओं को लेकर और चौकस रहने के लिए उनसे हस्तक्षेप करने की अपील की थी.


बिजली के लिए सीएम अरविंद केजरीवाल से मिलीं 
12 जून को दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)  से कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार अगले 6 महीने तक दिल्ली के बिजली उपभोक्ताओं से बिजली बिल ना वसूले. शीला दीक्षित (Sheila Dikshit) का कहना है कि राज्य सरकार ने गैरकानूनी रूप से दिल्ली के लोगों से पेंशन फंड के नाम पर 7401 करोड़ वसूले हैं और बिजली वितरण कंपनियों को फायदा पहुंचाया है. 

नहीं रहीं शीला दीक्षित, विपक्षी भी कर रहे याद​

अन्य खबरें :
शीला दीक्षित का राहुल गांधी को यह था आखिरी संदेश, हार-जीत तो पार्टी का हिस्सा, लड़ाई जारी रखो

टिप्पणियां

Live Updates: दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आज दोपहर निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

शीला दीक्षित के बेटे को सोनिया गांधी ने लिखा पत्र, कहा- उन्होंने आखिरी समय तक कांग्रेस की सेवा की



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 37: अजय देवगन की 'तान्हाजी' का धांसू प्रदर्शन जारी, 37वें दिन रही ऐसी कमाई

Advertisement