NDTV Khabar

अमित शाह-उद्धव ठाकरे की मुलाक़ात से पहले शिवसेना का हमला, कहा- हार के बाद ही संपर्क की ज़रूरत क्यों?

अमित शाह और उद्धव ठाकरे की मुलाक़ात से पहले शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के ज़रिए बीजेपी के संपर्क फ़ॉर समर्थन अभियान पर निशाना साधा है. सामना में लिखा है. उपचुनाव में हार के बाद ही संपर्क अभियान की ज़रूरत क्यों पड़ी?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमित शाह-उद्धव ठाकरे की मुलाक़ात से पहले शिवसेना का हमला, कहा- हार के बाद ही संपर्क की ज़रूरत क्यों?

फाइल फोटो

खास बातें

  1. पचुनावों में मिली हार के बाद बीजेपी अपने सहयोगियों का रुख़ कर रही है
  2. बीजेपी की चुनाव से पहले नाराज़ सहयोगियों को विश्वास में लेने की कोशिश
  3. शिवसेना ने बीजेपी के संपर्क फ़ॉर समर्थन अभियान पर निशाना साधा है
नई दिल्ली:

उपचुनावों में मिली हार के बाद बीजेपी अपने सहयोगियों का रुख़ कर रही है. बीजेपी और शिवसेना के रिश्तों में जारी तल्ख़ी के बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज शाम मुबंई में मातोश्री जाकर शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मिलेंगे.  बीजेपी की कोशिश 2019 चुनाव से पहले अपने नाराज़ सहयोगियों को विश्वास में लेने की है. वहीं अमित शाह और उद्धव ठाकरे की मुलाक़ात से पहले शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के ज़रिए बीजेपी के संपर्क फ़ॉर समर्थन अभियान पर निशाना साधा है. सामना में लिखा है. उपचुनाव में हार के बाद ही संपर्क अभियान की ज़रूरत क्यों पड़ी? बीजेपी इस अभियान के ज़रिए सबको साथ लेकर चलना चाहती है, लेकिन सरकार और जनता के बीच ही संपर्क टूट गया है. संपर्क बनाना, तोड़ना बीजेपी का व्यापारिक गणित है. 

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह का विवादित बयान, ' अधिकारियों से अच्छा चरित्र तो वैश्याओं का होता है क्योंकि...'


आपको बता दें कि तीन जून को शाह ने लोजपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान से मुलाकात की थी, जिन्होंने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का मुद्दा उठाया था. बीजेपी द्वारा उन सहयोगी दलों से मुलाकात करने का सिलसिला जारी है जो या तो पार्टी की आलोचना कर रहे हैं या उससे मतभेदों को व्यक्त कर रहे हैं और इसका उद्देश्य अगले वर्ष लोकसभा चुनावों से पहले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को मजबूत करना है. शिवसेना के सांसद संजय राउत ने मुंबई बताया, ‘अमित शाह ने उद्धव जी से मिलने का समय मांगा. इसी के मुताबिक, उन्हें बुधवार शाम को मिलने का समय दिया गया है.’बहरहाल उन्होंने चार वर्षों के अंतराल के बाद शाह को उद्धव ठाकरे से मिलने की जरूरत पर सवाल उठाया. 

दिल्ली विधानसभा का तीन दिवसीय सत्र आज से, पूर्ण राज्य के दर्जे के मुद्दे पर बीजेपी को घेरेगी AAP

बीजेपी के एक नेता ने कहा कि शाह उद्धव ठाकरे से कल मुंबई स्थित उनके आवास पर मुलाकात करेंगे और अगले दिन चंडीगढ़ जाएंगे. जहां वह बादल और उनके बेटे तथा शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल से मुलाकात करेंगे. बीजेपी अध्यक्ष के मुंबई और चंडीगढ़ दौरे के अलावा उन्होंने बिहार की राजधानी पटना में सात जून को राजग के सभी सहयोगियों के लिए भव्य भोज का आयोजन करने का निर्देश दिया है. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और केंद्रीय मंत्री पासवान तथा उपेन्द्र कुशवाहा हिस्सा लेंगे. पार्टी के एक नेता ने कहा कि बीजेपी के महासचिव और पार्टी के बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव, राज्य भाजपा के अध्यक्ष नित्यानंद राय और राजग के अन्य सहयोगी अरुण कुमार भी समारोह में हिस्सा लेंगे. रात्रि भोज में शामिल होने के लिए राजग के सभी विधायकों, विधान पार्षदों और बिहार के सांसदों को आमंत्रित किया गया है. 

SC/ST कर्मचारियों को प्रमोशन में आरक्षण पर बीजेपी का समर्थन

टिप्पणियां

वहीं बीजेपी के संपर्क फ़ॉर समर्थन अभियान के तहत पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को मुंबई में मशहूर गायिका लता मंगेशकर, जानी-मानी अभिनेत्री माधुरी दीक्षित और उद्योगपति रतन टाटा से मिलेंगे. अमित शाह इन लोगों को मोदी सरकार के 4 साल के कामकाज और उपलब्धियों के बारे में बताएंगे. मुंबई पहुंचने के बाद सबसे पहले वो मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलार के घर जाएंगे, हाल ही में आशीष शेलार की मां का निधन हुआ है.

VIDEO: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलेंगे अमित शाह


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement