NDTV Khabar

गुजरात नतीजे पर शिवसेना का तंज, कहा-'बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया'

शिवसेना ने कहा कि 'गुजरात मॉडल हिल गया है' और राज्य के चुनावी नतीजे तानाशाही शासन में यकीन रखने वालों के लिए 'खतरे की घंटी' है.

3.8K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात नतीजे पर शिवसेना का तंज, कहा-'बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया'

गुजरात चुनाव के नतीजे आने के बाद शिवसेना ने मुखपत्र 'सामना' के जरिये साधा निशाना.

खास बातें

  1. शिवसेना ने कहा, हिल गया विकास का गुजरात मॉडल
  2. कहा- गुजरात में 'बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया'
  3. कहा-2019 के चुनाव तक यह धराशायी न हो जाए
मुंबई: गुजरात चुनाव के परिणाम आने के बाद शिवसेना ने अपनी सहयोगी भाजपा पर तीखा हमला बोला है. शिवसेना ने कहा कि 'गुजरात मॉडल हिल गया है' और राज्य के चुनावी नतीजे तानाशाही शासन में यकीन रखने वालों के लिए 'खतरे की घंटी' है. शिवसेना ने मुखपत्र 'सामना' में लिखे गए एक संपादकीय में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को 'बंदर' कहकर उनका मजाक उड़ाया गया, लेकिन 'इन बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया'. 

यह भी पढ़ें : गुजरात में बीजेपी का फिर से सत्ता में आना बड़ी बात नहीं, कांग्रेस असली विजेता : शिवसेना

गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के एक दिन बाद शिवसेना ने यह हमला किया है. भाजपा को इस बार 99 सीट मिली, जबकि 2012 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को 115 सीट मिली थी. कांग्रेस को पिछली बार 61 सीट मिली थी, जबकि इस बार 77 सीटें हासिल कर पार्टी ने अपने प्रदर्शन में सुधार किया. शिवसेना ने कहा कि भाजपा किसी तरह चुनावी परीक्षा पास करने में सफल हुई है, लेकिन दिखा ऐसे रही है जैसे उसे बहुत अच्छे नंबर मिले हों.

यह भी पढ़ें : गुजरात और हिमाचल में BJP भारी जीत की ओर, लेकिन शिवसेना ने राहुल गांधी की तारीफ में पढ़े कसीदे

संपादकीय में कहा गया कि भाजपा ने गुजरात और हिमाचल में जीत जरूर हासिल की, लेकिन कांग्रेस भी हारी नहीं है. शिवसेना ने कहा, 'कांग्रेस मुक्त भारत का सपना पूरा नहीं हो सका.' पार्टी ने कहा कि गुजरात के चुनावी नतीजे 'तानाशाही शासन में यकीन रखने वालों के लिए खतरे की घंटी है.' 

यह भी पढ़ें : महाराष्ट्र में एक साल के अंदर सरकार से बाहर हो जाएगी शिवसेना : आदित्य ठाकरे

संपादकीय में कहा गया, 'भाजपा भले ही चुनाव जीत गई हो, लेकिन चर्चे तो राहुल गांधी की प्रगति के हैं. कहा जा रहा था कि गुजरात में भाजपा 150 से कम सीटें नहीं जीतेगी, लेकिन 100 सीटों तक पहुंचना भी उनके लिए मुश्किल हो गया.' पार्टी ने भाजपा से कहा कि वह गुजरात में राहुल और हार्दिक के 'जबर्दस्त प्रदर्शन' पर गौर करे. पार्टी ने कहा कि गुजरात के 99 विधानसभा क्षेत्रों के लोगों ने मोदी का साथ दिया, लेकिन 'राहुल गांधी-हार्दिक पटेल की जोड़ी' ने 77 सीटों पर जीत हासिल की.

यह भी पढ़ें : 25 साल में बीजेपी को पहली बार मिली 100 से कम सीटें, पढ़ें गुजरात नतीजों से जुड़ी 10 खास बातें

शिवसेना ने कहा कि कुछ लोगों ने राहुल और हार्दिक को भाजपा नेतृत्व की तुलना में 'बंदर' करार दिया, लेकिन 'इन बंदरों ने शेर को तमाचा जड़ दिया है और खतरे की घंटी बजा दी है.' पार्टी ने कहा, 'मजाक उड़ाने के इस खेल में शामिल लोग अब ऐसा दिखा रहे हैं कि वे बहुत अच्छे नंबरों से पास हो गए, जबकि वह किसी तरह से परीक्षा में पास हो सके हैं.'

टिप्पणियां
VIDEO : शिवसेना बीजेपी को एक साल के अंदर छोड़ देगी : आदित्य ठाकरे


शिवसेना ने कहा, 'विकास के गुजरात मॉडल के बारे में बहुत कुछ बोला गया, लेकिन अब वह हिल चुका है. हम कामना करते हैं कि 2019 के चुनाव तक यह धराशायी न हो जाए.'  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement