NDTV Khabar

राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद के नाम पर नरम पड़ी शिवसेना, उद्धव ठाकरे ने समर्थन का किया ऐलान

उद्धव ने कहा, 'राष्ट्रपति पूरे देश के होते हैं और उनसे देश का भला अपेक्षित है. हम इसी उम्मीद से रामनाथ जी को समर्थन दे रहे हैं.'

465 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद के नाम पर नरम पड़ी शिवसेना, उद्धव ठाकरे ने समर्थन का किया ऐलान

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कोविंद की उम्मीदवारी को लेकर शिवसेना ने बदला रुख
  2. बीजेपी की राह में हर बार अड़ंगा डालना शिवसेना का उद्देश्य नहीं- उद्धव
  3. कल उद्धव ने कहा था- हमने एमएस स्वामीनाथन का नाम सुझाया था
मुंबई: शिवसेना ने राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन करने का फैसला किया है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कोविंद को एक बेहतर इंसान बताया. उद्धव ने यह भी साफ किया कि बीजेपी के रास्ते में हर बार अड़ंगा डालना शिवसेना का उद्देश्य नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी ने कोविंद का नाम देकर राजनीति की है या नहीं, यह सवाल पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से पूछा जाना चाहिए.

उद्धव ने कहा, अमित शाह जब घर आए थे, तब उन्होंने साथ रहने की गुजारिश की थी. मैंने उनसे कहा था कि आप नाम बताए हम उस पर फैसला लेंगे. उन्होंने कल नाम बताया. मैंने अपने नेताओं से बात की. मोहन भागवत और स्वामीनाथन का नाम हमने दिया था. भागवत के नाम का तर्क मैं बता चुका हूं जबकि, अमित शाह के साथ हुई बातचीत में बताया गया कि स्वामीनाथन की उम्र अब बहुत है. उनकी तबियत भी ठीक नहीं रहती.'

शिवसेना प्रमुख ने कहा, 'ऐसे में अब बात रह जाती है कल दिए नाम की.देश में एनडीए की सरकार है. हम उसके घटक दल हैं. हम NDA के उम्मीदवार को समर्थन दे रहे हैं. हमारे समर्थन के बाद कोविंद की जीत में अब कोई रोड़ा नहीं रह जाता है.'

उद्धव ने कहा, 'हमारी उम्मीद है कि यब चुनाव जातीय राजनीति का हिसाब न हो. राष्ट्रपति पूरे देश के होते हैं और उनसे देश का भला अपेक्षित है. हम इसी उम्मीद से रामनाथ जी को समर्थन दे रहे हैं. उनके कार्यकाल में देश का भला होगा, ऐसी हमारी उम्मीद है.' उन्होंने कहा, 'UPA के उम्मीदवार के नाम की चर्चा होते-होते चुनाव निकल जाएगा. कोविंद
सामान्य परिवार से हैं. हम हर बार न बीजेपी से लड़ना चाहते हैं न वो हमारे एजेंडे पर है. जो बात जब ठीक लगती है, तब उसका समर्थन करते हैं. जो पसंद नहीं उसका विरोध करते हैं और करते रहेंगे.'

गौरतलब है कि सोमवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह द्वारा रामनाथ कोविंद को एनडीए का राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद शिवसेना ने कहा था कि वह इस बारे में अपना अंतिम फैसला मंगलवार को बताएगी.

सोमवार शाम माटुंगा में शिवसेना के 51वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा था कि अगर कोविंद को दलित वोट हासिल करने की मंशा से चुना गया है, तो शिवसेना उनका समर्थन नहीं करेगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement