NDTV Khabar

रवींद्र गायकवाड़ को क्‍यों और किसके दबाव में टारगेट किया गया, इसका जल्‍द पर्दाफाश होगा: शिवसेना

108 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
रवींद्र गायकवाड़ को क्‍यों और किसके दबाव में टारगेट किया गया, इसका जल्‍द पर्दाफाश होगा: शिवसेना

खास बातें

  1. राउत ने कहा कि क्‍या यह यात्री (रवींद्र गायकवाड़) आतंकवादी है?
  2. एयरलाइन कंपनियों ने विजय माल्‍या को अपनी फ्लाइट से देश से भगाया- राउत
  3. मामला नहीं सुलझा तो शिवसेना एनडीए की मीटिंग में नहीं जाएगी: संजय राउत
नई दिल्‍ली: एयर इंडिया के कर्मचारी को पीटे जाने के बाद एयर इंडिया द्वारा शिवसेना के सांसद रवींद्र गायकवाड़ पर बैन लगाने और मुकदमा दर्ज होने के मामले पर अब राजनीति गरमा गई है. आज संसद में शिवसेना द्वारा अपनी मांगों को लेकर इस मुद्दे पर हंगामा किए जाने के बाद भी पार्टी आक्रामक रुख अपनाए हुए है.

पार्टी सांसद संजय राउत ने गुरुवार को मीडिया से कहा कि 'इस मामले में असली गुनहगार एयर इंडिया है, जिसकी वजह से यह हो रहा है और अन्‍य सभी एयरलाइन कंपनियों ने सांसद को टारगेट किया. उन्‍हें क्‍यों टारगेट किया, किसके दबाव में टारगेट किया और इसके पीछे कौन है, उसका भी जल्‍दी पर्दाफाश हो जाएगा.

संजय राउत ने कहा कि 'एयर इंडिया में जो हादसा हुआ, वह क्‍या और कैसे हुआ, इस बारे में आज हमारे सांसद रवींद्र गायकवाड़ ने लोकसभा में पूरी कहानी बताई. गायकवाड़ ने जो कहा वह सच्‍चाई है'.

उन्‍होंने कहा कि क्‍या यह यात्री (रवींद्र गायकवाड़) आतंकवादी है? क्‍या इस यात्री ने बहुत बड़ा गुनाह किया है? आज बहुत से सांसदों पर हत्‍या से लेकर अन्‍य संगीन अपराधों में मुकदमे दर्ज हैं... तो क्‍या सभी को विमान में चढ़ने नहीं दिया जाएगा. और यह तय करने वाली विमान कंपनियां कौन हैं. इन सभी एयरलाइंस के मालिकों की अगर जांच की जाए तो इनमें एक पर अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाउद इब्राहिम के साथ सीधे-सीधे सांठगांठ करने का आरोप है.

पार्टी सांसद ने आगे कहा कि इन्‍हीं एयरलाइन कंपनियों ने विजय माल्‍या को अपनी फ्लाइट से देश से भगाया. वह अपने आप को उड़कर नहीं गए ना? देश को लूटने वाले को आप भगाते हो.

उनका कहना था कि 'दिल्‍ली पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. कानून अपना काम करेगा. अब तक सच सामने नहीं आया कि किसने किया और क्‍या किया. एक सांसद के ऊपर आप सीधा बैन लगाकर उन्‍हें फ्लाइट में नहीं चढ़ने देंगे. यह नाइंसाफी है. लगभग 8 दिन से हम सरकार, मंत्री के पास और संसद में यह मुद्दा उठा रहे हैं, लेकिन जब हमें लगा कि यह सब करने के बावजूद भी जब किसी दबाव में कुछ नहीं हो रहा है तो शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक बैठक में हम सभी से कहा कि फिर ठीक है, आप न्‍याय के लिए शिवसेना का आक्रमण कर दीजिए. मैं मानता हूं कि यह अन्‍याय है और हमें संसद में यह मुद्दा उठाया, जिससे संसद कार्यवाही में बाधा उत्‍पन्‍न हुई'.

उन्‍होंने सवाल उठाते हुए कहा कि 'आपकी फ्लाइट से बड़े-बड़े गुनहगार, देश तोड़ने वाले कश्‍मीर के अलगाववादी, पाकिस्‍तान से आने वाले कलाकार तो उड़ सकते हैं, लेकिन रवींद्र गायकवाड़ उड़ान नहीं भर सकते.. लिहाजा, आज हमने आवाज उठाई और सरकार की तरफ से आश्‍वस्‍त किया गया कि इस पूरे मामले पर जल्‍द ही हल निकाला जाएगा'.

उन्‍होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 10 अप्रैल तक यह मामला नहीं सुलझा तो हम (शिवसेना) एनडीए की मीटिंग में नहीं जाएंगे और मैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से बात करने के बाद कह रहा हूं. यह मेरा नहीं पार्टी चीफ का ही बयान है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement