NDTV Khabar

जनता ने वंशवाद की राजनीति नकार दी लेकिन कांग्रेस ने नहीं ली कोई सीख : शिवराज सिंह चौहान

कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने शनिवार को सोनिया गांधी को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया है. जब तक एआईसीसी स्थायी अध्यक्ष का चुनाव नहीं कर लेती तब तक सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष रहेंगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जनता ने वंशवाद की राजनीति नकार दी लेकिन कांग्रेस ने नहीं ली कोई सीख : शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

वरिष्ठ बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को कहा कि पिछले आम चुनाव में वंशवाद की राजनीति नकार दी गई लेकिन कांग्रेस ने इससे कोई सीख नहीं ली और वह अब भी चाहती है कि पार्टी का नेतृत्व राहुल गांधी और सोनिया गांधी करें. चौहान ने कहा कि भाजपा ने एक मिसाल कायम की क्योंकि उसके नेता स्वाभाविक रूप से पार्टी में उभरे जबकि कांग्रेस एक परिवार से आगे नहीं बढ़ पायी.  बीजेपी के उपाध्यक्ष ने पत्रकारों से कहा, 'कांग्रेस सीखना नहीं चाहती. यह हैरान करने वाला है कि सीडब्ल्यूसी अब भी चाहती है कि पार्टी का नेतृत्व राहुल गांधी और सोनिया गांधी करें.' 

अमरिंदर सिंह बोले- सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाना 'मौजूदा परिस्थितियों' में लिया गया सर्वश्रेष्ठ फैसला

गौरतलब है कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने शनिवार को सोनिया गांधी को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त किया है. जब तक एआईसीसी स्थायी अध्यक्ष का चुनाव नहीं कर लेती तब तक सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष रहेंगी. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वंशवाद, परिवार और जाति की राजनीति से चल रही पार्टियों को आम चुनावों में उत्तर प्रदेश और बिहार समेत हर जगह हार मिलीं.


लगभग 12 घंटों की माथापच्ची के बाद सोनिया गांधी इस तरह बनीं कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष! पढ़ें इनसाइड स्टोरी

उन्होंने कहा कि लोगों ने पश्चिम बंगाल में भी तुष्टिकरण की राजनीति को नकार दिया. लोगों ने राष्ट्रवाद और विकास चुना. चौहान ने दावा किया कि कांग्रेस को लोकतांत्रिक प्रक्रिया से नेता चुनना चाहिए और अगर वह ऐसा करने में विफल रही तो पार्टी को कोई नहीं बचा सकता. 

टिप्पणियां

CWC ने सोनिया गांधी को बनाया अंतरिम अध्यक्ष, राहुल के नेतृत्व को सराहा​



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement