जब राहुल गांधी ने कमलनाथ को कहा- कमल, तुम भी आइसक्रीम खाओ, तो शिवराज ने ऐसे बोला हमला

इंदौर में व्यस्त चुनावी कार्यक्रम के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक आइसक्रीम की दुकान पर गये और आइसक्रीम खाया, तो वह शिवराज सिंह चौहान के निशाने पर आ गये.

जब राहुल गांधी ने कमलनाथ को कहा- कमल, तुम भी आइसक्रीम खाओ, तो शिवराज ने ऐसे बोला हमला

इंदौर आइसक्रीम खाते राहुल गांधी और कमलनाथ

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव सिर पर है. हर चुनाव के दौरान राजनेताओं के हर एक-एक गतिविधि और हरकत को काफी करीब से देखा और जांचा-परखा जाता है. यही वजह है कि जब बुधवार को इंदौर में व्यस्त चुनावी कार्यक्रम के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक आइसक्रीम की दुकान पर गये और आइसक्रीम खाया, तो वह शिवराज सिंह चौहान के निशाने पर आ गये. दरअसल, आइसक्रीम की दुकान पर राहुल गांधी ने जिस लहजे में कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ सिंह को संबोधित करके आइसक्रीम खाने के लिए कहा, उस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की नजर पड़ी और उन्होंने इसके लिए राहुल गांधी को घेरा. राहुल गांधी ने आइसक्रीम की दुकान पर कहा- 'कमल, आइसक्रीम अच्छी है'. राहुल के इसी बयान पर शिवराज सिंह चौहान ने सवाल उठाए और कहा कि आखिर वह अपने से बड़े को ऐसे कैसे संबोधित कर सकते हैं?

मध्य प्रदेश में चुनाव से पहले भाजपा को झटका, विधायक और पूर्व विधायक ने थामा कांग्रेस का हाथ

दरअसल, मध्य प्रदेश की सियासत में भी सभी दलों के नेता एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं और इन सब पर वहां की जनता की भी नजर है. बुधवार को इंदौर में राहुल गांधी ने अपने व्यस्त कार्यक्रम के बीच एक आइसक्रीम की दुकान ' 56 दुकान' पर कुछ देर का ब्रेक लिया. इस दौरान उनके साथ कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे. 

बीजेपी नेता गिरिराज सिंह बोले- नहीं पता राहुल गांधी हिंदू हैं, अगर वह राम मंदिर पर चुप रहे तो शिव की भक्ति भी स्वीकार्य नहीं

जैसे ही राहुल गांधी आइसक्रीम खाने वाले थे, उन्होंने एक बच्चे को पास में देखा और उसे आइसक्रीम ऑफर किया. राहुल गांधी ने कहा- हेल्लो, आइसक्रीम लोगे? इसके बाद बच्चे ने आइसक्रीम ले ली और खाने लगा. इसके बाद राहुल गांधी ने कहा- 'कमल, आइसक्रीम बहुत अच्छी है, तुम भी खाओ.' इसके बाद कमलनाथ के पहले नाम से संबोधित करने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आलोचना की. 

खरगोन में राहुल गांधी बोले - कांग्रेस को मौका दीजिए, 5 साल बाद अमेरिका में सबकी जुबान पर होगा इंदौर का नाम

शिवराज सिंह चौहान ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि कमलनाथ ने उनके पिता (राजीव गांधी) के साथ काम किया है. 70-75 साल के शख्स को उसके नाम से बुलाना क्या यही भारतीय संस्कृति है?' बता दें कि इससे पहले राहुल गांधी पनामा पेपर वाले बयान को लेकर भी फंस चुके हैं, जिसके बाद कांग्रेस पार्टी को सफाई देनी पड़ी है. इसी को लेकर शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है. 

राहुल का पीएम मोदी पर हमला, 'पहले नारा था 'अच्छे दिन आएंगे', अब नारा है 'चौकीदार चोर है' यह कैसे हुआ?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बहुचर्चित पनामा पेपर लीक मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे का नाम शामिल होने का आरोप लगाने के अगले ही दिन मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी बात से पलट गये. उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि भाजपा शासित राज्यों में कथित तौर पर इतने घोटाले हुए हैं कि वह इस सिलसिले में "चकरा" गये थे.

VIDEO: रणनीति : कन्फ्यूजन या मानहानि?