शिवसेना के MLA प्रताप सरनाईक के आवास पर ED का छापा, मनी-लॉन्डरिंग केस में बेटे से हुई पूछताछ

ED ने मुंबई और ठाणें में सरनाईक से जुड़े 10 लोकेशनों पर छापेमारी की है. न्यूज एजेंसी PTI ने सूत्रों के हवाले से कहा कि 'Tops Group (सिक्योरिटी देने वाली कंपनी) से जुड़े प्रमोटरों और कुछ संबंधित लोगों पर छापेमारी की जा रही है, जिसमें कुछ राजनेता भी शामिल हैं.'

मुंबई:

शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाईक (Pratap Sarnaik) के आवास और संपत्तियों पर मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने छापा मारा. छापेमारी के बाद एजेंसी उनके बेटे विहांग सरनाईक को पूछताछ के लिए अपने साथ भी ले गई थी. इसके बाद अनुमान लगाए जा रहे थे कि पूछताछ के बाद उनकी तुरंत गिरफ्तारी भी हो सकती है. सेना विधायक और उनके बेटे पर मनी लॉन्डरिंग केस में जांच चल रही है. सूत्रों ने बताया कि विहांग सरनाईक को प्रवर्तन निदेशालय मुंबई में उनके पिता के एक दूसरे आवास पर ले गई थी. 

ED ने मुंबई और ठाणें में सरनाईक से जुड़े 10 लोकेशनों पर छापेमारी की है. न्यूज एजेंसी PTI ने सूत्रों के हवाले से कहा कि 'Tops Group (सिक्योरिटी देने वाली कंपनी) से जुड़े प्रमोटरों और कुछ संबंधित लोगों पर छापेमारी की जा रही है, जिसमें कुछ राजनेता भी शामिल हैं.'

आर्थिक अपराध के मामले देखने वाली एजेंसी ED प्रताप सरनाईक पर लगे मनी लॉन्डरिंग के आरोपों की जांच रही है. उनकी पार्टी शिवसेना ने केंद्र की मोदी सरकार पर सरनाईक को टारगेट पर लेने का आरोप लगाया है. 

यह भी पढ़ें : ‘कराची होगा भारत का हिस्सा' वाले फडणवीस के बयान पर संजय राउत ने कसा तंज

Newsbeep

सेना के सांसद और मुख्य प्रवक्ता संजय राउत ने बीजेपी का नाम लिए बगैर कहा कि पार्टी को अगले 25 सालों तक महाराष्ट्र में सत्ता पाने का सपना भूल जाना चाहिए. 'चाहे वो सरकारी एजेंसियों की ओर से चाहे कितना भी दबाव बनाएं या आतंक फैलाएं.' उन्होंने कहा कि 'अगर आज आपने यह शुरू किया है, तो हम जानते हैं कि इसका अंत कैसे करना है?'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राउत ने बताया कि विधायक के घर पर तब छापेमारी की गई, जब वो घर पर नहीं थे. उन्होंने कहा, 'आप राज्य सरकार से जुड़े लोगों को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे हैं. यह सबकुछ आप पर उल्टा पड़ेगा और मुझे लगता है कि वो वक्त जल्द आ रहा है.'