Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

दिल्ली में AAP की जीत पर शिवसेना ने की केजरीवाल की तारीफ, कहा- BJP नेताओं की सेना का...

उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने अपनी पूर्व सहयोगी भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि आप की जीत ‘‘घमंड और हम जो करें वही कायदा है’’ वाले रवैये की हार को दिखाती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली में AAP की जीत पर शिवसेना ने की केजरीवाल की तारीफ, कहा- BJP नेताओं की सेना का...

अरविंद केजरीवाल.

नई दिल्ली:

शिवसेना ने बुधवार को कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) के, अपने कार्यों पर केंद्रित प्रचार अभियान ने उसे दिल्ली विधानसभा चुनाव में शानदार जीत दिलाई जबकि भाजपा की “ध्रुवीकरण की कोशिश” राष्ट्रीय राजधानी के मतदाताओं को रास नहीं आई. शिवसेना ने दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आप अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल की यह कहते हुए प्रशंसा की उन्होंने मुख्यमंत्रियों और केंद्रीय नेताओं समेत “भाजपा नेताओं की सेना” का अकेले मुकाबला किया और शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपनी सरकार द्वारा किए गए कार्यों को सफलतापूर्वक पेश किया.  पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘सामना' के एक संपादकीय में कहा, “यह असाधारण है क्योंकि भारत में चुनाव आम तौर पर भावनात्मक मुद्दों पर लड़े जाते हैं.”

उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने अपनी पूर्व सहयोगी भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि आप की जीत ‘‘घमंड और हम जो करें वही कायदा है'' वाले रवैये की हार को दिखाती है. संपादकीय में कहा गया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव हारना और देश की वित्तीय राजधानी (महाराष्ट्र) में शिवसेना का मुख्यमंत्री बनना केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के लिए “बेहद दुखी करने वाला” होगा जो राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ने के बाद भाजपा की कम से कम एक जीत को तरस रहे थे.


दिल्ली चुनाव के बाद कांग्रेस में 'फूट'? चिदबंरम पर कांग्रेस नेता ने साधा निशाना- AAP की जीत पर हम खुशी क्यों मना रहे हैं?

मंगलवार को केजरीवाल नीत आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक बार फिर शानदार जीत हासिल की. संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में जारी प्रदर्शनों के बीच इस मुकाबले पर सबकी नजर थी जहां आप ने मुख्य प्रतिद्वंद्वी भाजपा को जबर्दस्त झटका दिया और कांग्रेस का पूरी तरह से सफाया कर दिया.

शिवसेना ने केजरीवाल को जीत की बधाई देते हुए कहा, “भाजपा दिल्ली विधानसभा चुनाव में अपने सांसदों, विधायकों और पड़ोसी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की पूरी फौज के साथ उतरी थी लेकिन केजरीवाल अकेले उनपर भारी पड़ गए. यह घमंड की और उस रवैये, कि ‘हम करें सो कायदा” की हार है.”

अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को रामलीला मैदान में लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ

पार्टी ने कहा कि भाजपा ने अपने चुनावी विमर्श को सीएए, “हिंदू-मुस्लिम” और शाहीन बाग को मुस्लिमों का आंदोलन बताने जैसे मुद्दों पर केंद्रित रखा लेकिन मतदाता ऐसे “ध्रुवीकरण” के चक्कर में नहीं पड़े और केजरीवाल के पक्ष में मतदान किया.

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने BJP पर कसा तंज, बोले- मेरी पुरानी पार्टी को बधाई, शानदार प्रदर्शन

टिप्पणियां

संपादकीय में दावा किया गया कि दिल्ली में कानून-व्यवस्था का केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत आना भी आप के लिए लाभकारी रहा. मराठी दैनिक ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष का पद छोड़ने के बाद शाह अपनी पार्टी के लिए एक जीत चाहते थे जो लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद एक एक कर राज्य विधानसभा चुनाव हार रही है.

वीडियो: 16 फरवरी को रामलीला मैदान में शपथ लेंगे अरविंद केजरीवाल



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... क्रिकेट मैच में विकेटकीपर बना डॉगी, बिजली की रफ्तार से गेंद पर यूं लपका, एक्ट्रेस ने शेयर किया Video

Advertisement