NDTV Khabar

शोपियां गोलीबारी : मृतकों की संख्या छह हुई

पुलिस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘शोपियां जिले से आज सुबह और दो शव बरामद हुए हैं.’’ 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शोपियां गोलीबारी : मृतकों की संख्या छह हुई

शोपियां में सेना की आतंकियों से मुठभेड़ हुई थी.

श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में बीती रात हुई गोलीबारी में मरने वालों की संख्या छह पहुंचने के साथ ही इलाके में स्थिति तनावपूर्ण हो गयी है. गौरतलब है कि जिले में कल रात वाहनों पर गोलीबारी हुई थी. पुलिस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘शोपियां जिले से आज सुबह और दो शव बरामद हुए हैं.’’ 

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने एक अन्य आतंकवादी का शव पाहनू से करीब सात किलोमीटर की दूरी पर बरामद किया है. उसकी पहचान लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी आशिक हुसैन भट के रूप में हुई है. उन्होंने बताया कि जिले के पाहनू इलाके में सचल वाहन चौकी पर सेना ने दो वाहनों पर गोलियां चलायी थीं. वाहन में सवार लोगों ने भी पुलिस और सेना के जवानों पर गोलीबारी की थी. भट राख करपाण का रहने वाला था.

इसके अलावा घटना स्थल से कुछ दूरी पर एक अन्य वाहन से शोपियां के चित्रागाम निवासी गौहर अहमद लोन का शव मिला है. सेना का आरोप है कि वह भी आतंकवादी समूहों से जुड़ा हुआ था. जिले में आतंकवादियों द्वारा सुरक्षाबलों के एक संयुक्त नाके पर गोलीबारी किए जाने के बाद हुई मुठभेड़ में एक आतंकवादी सहित चार लोग मारे गये. अन्य तीनों के बारे में सेना का दावा है कि वह भी आतंकवादी समूहों से जुड़े हुए थे.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि चेक नाके पर एक कार को रूकने का इशारा किया गया, लेकिन वह नहीं रूकी. कार सवार लोगों ने सैनिकों पर गोलीबारी की, जिसका सेना ने जवाब दिया, और जवाबी कार्रवाई में एक आतंकवादी मारा गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतकों में से एक की पहचान आमिर अहमद मलिक के रूप में की. मलिक पिछले वर्ष जुलाई में लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हुआ था. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि अन्य शवों को उनके कानूनी वारिस को सौंप दिया गया है.

टिप्पणियां
उन्होंने बताया कि हथियार जब्त किये गये हैं. कानून कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. कल की घटना के विरोध में संयुक्त प्रतिरोध मंच द्वारा आहूत आज के बंद के मद्देनजर शोपियां और घाटी के अन्य क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है. दो महीने लंबे शीतकालीन अवकाश के बाद आज खुले घाटी के स्कूलों और शिक्षण संस्थानों को एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया है. घाटी में ज्यादातर जगहों पर सार्वजनिक परिवहन नदारद दिखे, हालांकि कुछ निजी वाहन और कैब आदि सड़कों पर जरूर नजर आये.

रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि बारामुला से बनिहाल के बीच ट्रेन सेवा को एहतियात के तौर पर निलंबित कर दिया गया है. अधिकारियों ने बताया कि रैनावाड़ी, खानयार, नौहट्टा, एम. आर. गंज, सफाकदल, करालखुद और मैसुमा थाना क्षेत्रों में निषेध लगाया गया है. कश्मीर विश्वविद्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि आज होने वाली परीक्षाएं टाल दी गई हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement